Mon. Apr 15th, 2024

मणिपुर में हालात लगातार बिगड़ते जा रहे हैं, हालात काबू में लाने के लिए केंद्र सरकार अपनी कोशिशों में जुटी हुई है। एक तरफ जहां भारतीय सेना अपनी पूरी कोशिश कर रही है। वहीं, दूसरी ओर गृहमंत्री अमित शाह भी लगातार हालात पर नजरें जमाए हुए हैं। सूत्रों के अनुसार अब तक अमित शाह वीडियो काॅन्फ्रेन्स के ज़रिए दो बार मणिपुर और पड़ोसी राज्यों असम, नगालैंड और मिज़ोरम के मुख्यमंत्रियों से बातचीत कर चुके हैं।

बताया जा रहा है कि इस वर्चुअल बैठक में केंद्र और राज्य के उच्च अधिकारियों से भी बातचीत हुई है। बता दें कि मणिपुर में हालात काबू में लाने के लिए गृहमंत्री अमित शाह ने अपनी कर्नाटक यात्रा भी रद्द करदी है। आज अमित शाह को चुनाव प्रचार के लिए कर्नाटक जाना था, लेकिन उन्होंने अपनी यात्रा को रद्द कर दिया है। बताया जा रहा है कि राज्य में हालात सामान्य करने के लिए सुरक्षाबलों की तैनाती बढ़ा दी गई है।

इसके साथ ही राज्य में इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं और राज्य के 16 में से 8 जिलों में कर्फ्यू है। इसके अलावा खबर मिली है कि हिंसा शुरू होने के बाद से मणिपुर जाने वाली सभी ट्रेनों को भी रोक दिया गया है। इस बात की जानकारी एनएफ रेलवे के सीपीआरओ सब्यसाची डे ने दी है। सूत्रों के अनुसार राज्य में हिंसा इतनी ज्यादा बढ़ चुकी है कि उपद्रवियों द्वारा घरों में आग भी लगाई जा रही है और साथ ही धार्मिक प्रतिष्ठानों को भी निशाना बनाया जा रहा है।

हिंसा में सिर्फ जनता को ही नहीं बल्कि राजनेताओं को भी निशाना बनाया जा रहा है। खबरों के अनुसार फेरजावल जिले के थालन निर्वाचन क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के विधायक वुंगजागिन वाल्टे पर जानलेवा हमला किया गया है। रिम्स रोड पर सांसद को ले जा रही कार पर भीड़ ने हमला कर दिया। बता दें कि मणिपुर के राज्यपाल ने उपद्रवियों को देखते ही गोली मारने के आदेश जारी कर दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *