Wed. Jul 10th, 2024
Mukhtar Ansari DeathMukhtar Ansari

माफिया और पूर्व विधायक मुख्तार अंसारी (Mukhtar Ansari Death) की आज बांदा जेल में फिर से तबियत बिगड़ गई. इसके कुछ ही समय बाद सोशल मीडिया पर ऐसी ख़बरें चलने लगीं कि मुख्तार अंसारी इस दुनिया में नहीं रहे. प्रशासन ने परिवार को ख़बर की है और पूरा परिवार बांदा रवाना हो गया.

सूत्रों के हवाले से ऐसा कहा जा रहा है कि मुख्तार को हार्ट अटैक आया था, जिसके बाद उनकी तबीयत खराब हुई. दो दिन पहले के मुकाबले मुख्तार की तबीयत आज ज्यादा खराब हो गई. अस्पताल में पहले उनकी हालत नाज़ुक बनी रही और बाद में उनके गुजरने की ख़बर आयी.

इससे पहले जब 26 मार्च को मुख्तार को अस्पताल में भर्ती कराया गया था, तब मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल डॉ सुनील कौशल ने बताया था कि उन्हें पेट दर्द, पेशाब और मल त्यागने में समस्या थी. उस दिन उन्हें सुबह करीब पौने चार बजे भर्ती कराया गया था और शाम करीब 6 बजे डिस्चार्ज किया गया.

मुख्तार के भाई और बसपा सांसद अफजाल अंसारी ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया था कि उनके खाने में जहरीला पदार्थ मिलाया गया.

इससे पहले 21 मार्च को मुख्तार के वकील ने बाराबंकी कोर्ट को बताया था कि 19 मार्च की रात उनके खाने में जहरीला पदार्थ मिलाया गया, जिसके कारण उनकी तबीयत खराब हो गई. वकील के मुताबिक, इससे पहले अंसारी का स्वास्थ्य पूरी तरह ठीक था. उन्होंने कोर्ट से मुख्तार के इलाज के लिए डॉक्टरों की टीम बनाने का अनुरोध किया था.

यूपी में मुख्तार अंसारी के खिलाफ 60 से ज्यादा केस दर्ज हैं. मऊ से पांच बार विधायक रहा अंसारी 16 साल से ज्यादा समय से जेल में है. साल 2022 में उन्हें पहली बार दो मामलों में दोषी ठहराया गया था. इस साल 12 मार्च को वाराणसी की एक विशेष MP/MLA अदालत ने उन्हें एक 34 साल पुराने केस में उम्रकैद की सजा सुनाई थी.

Mukhtar Ansari Death

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *