Tue. Apr 16th, 2024

नई दिल्ली: सुभासपा से विधायक अब्बास अंसारी के लिए बड़ी ख़बर आ रही है. सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार को झ’टका देते हुए अब्बास की गिरफ्ता’री पर रोक लगा दी है. अदालत ने साथ ही यूपी सरकार (UP Government) को इस मामले में नोटिस जारी किया है और चार हफ्ते में जवाब देने के लिए कहा है. अब्बास अंसारी बाहुबली नेता मुख्तार अंसारी के बेटे हैं.

सुभासपा विधायक अब्बास अंसारी की गि’रफ्तारी को लेकर सुप्रीम कोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई. सुप्रीम कोर्ट में विधायक के आ’र्म्स एक्ट से जुड़े मामले में सुनवाई हुई. सुनवाई के दौरान फ’रार चल रहे है विधायक को कोर्ट ने राहत देते हुए गि’रफ्तारी पर चार हफ्ते की रोक लगा दी. वहीं दूसरी ओर कोर्ट ने यूपी सरकार को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है, अब सरकार को चार हफ्तों के अंदर कोर्ट में अपना जवाब देना होगा.

दरअसल, बीते लंबे वक्त से सुभासपा विधायक अब्बास अंसारी फरार चल रहे थे. जिसको लेकर उनके खिलाफ द’बिश भी चल रही थी. यूपी पुलिस सुभासपा विधायक की गिरफ्तारी के लिए कई जगहों पर छापेमारी कर रही थी. पुलिस ने यूपी के लखनऊ, गाजीपुर, जौनपुर, मिर्जापुर, वाराणसी, मऊ, प्रयागराज समेत कई जगहों पर बीते दिनों में छापेमारी की थी. हालांकि इसके अलावा पंजाब, दिल्ली समेत कई राज्यों में भी छापेमारी हुई थी.

जबकि कुछ दिन पहले ही लखनऊ की एमपी-एमएलए कोर्ट ने अब्बास अंसारी की संप’त्ति कु’र्क करने का आदेश दिया था. विशेष अपर मुख्य न्यायिक म’जिस्ट्रेट ए के श्रीवास्तव की अदालत ने अभियोजन पक्ष की याचिका पर यह आदेश पारित किया था. विशेष अदालत ने इससे पहले 14 जुलाई को अब्बास अंसारी के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया था. उसके बाद 11 अगस्त को उन्हें भगोड़ा घोषित कर दिया गया था. हालांकि अब्बास अंसारी का कोई पता नहीं चल पाया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *