Tue. Apr 16th, 2024

मुंबई: महाराष्ट्र में हुए ग्राम पंचायत के नतीजे आ गए हैं. नतीजे आने के साथ ही इन नतीजों पर चर्चा भी शुरू हो गई है. अक्सर होता है कि एक दल जीतने की बात करता है और एक अपनी हार को लेकर कुछ स्पष्टीकरण देता है लेकिन इन चुनावों में इस बार दोनों ही तरफ़ के लोग अपने को जीता बता रहे हैं.

प्राप्त जानकारी के अनुसार देर रात तक कुल 494 ग्राम पंचायत चुनाव के नतीजे आ चुके थे. इनमें सत्ताधारी गठबंधन (बीजेपी और शिवसेना शिंदे गुट) के समर्थित उम्मीदवारों ने 185 सीटें जीती हैं, जबकि विपक्षी महाविकास अघाड़ी गठबंधन (MVA) के समर्थित उम्मीदवारों के 225 सीटें जीतने के दावे किए गए हैं.

इन चुनावों में बीजेपी को 144 सीटें मिली हैं, जबकि सहयोगी शिवसेना के शिंदे गुट ने 41 सीटें जीती हैं. विपक्षी खेमे में सबसे ज्यादा एनसीपी ने 126 सीटें जीती हैं. कांग्रेस ने 62 सीटें जीती हैं, जबकि शिवसेना के उद्धव गुट ने 37 सीटें जीती हैं. अन्य ने 84 सीटें जीती हैं. हालांकि, महाराष्ट्र बीजेपी अध्यक्ष चंद्रशेखर बावनकुले ने सोमवार को दावा किया कि उनकी पार्टी द्वारा समर्थित 259 उम्मीदवारों और शिवसेना के एकनाथ शिंदे गुट द्वारा समर्थित 40 उम्मीदवारों ने राज्य में हाल में हुए ग्राम पंचायत के चुनावों में सरपंच पद पर जीत हासिल की है.

बावनकुले ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) समर्थित 259 उम्मीदवारों को सरपंच के रूप में चुना गया है. पूर्व मंत्री ने आगे दावा किया कि बीजेपी के सहयोगी मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट द्वारा समर्थित 40 उम्मीदवारों को भी सरपंच के रूप में चुना गया है.

उन्होंने कहा कि कुल मिलाकर, नवनिर्वाचित सरपंचों में से 50 प्रतिशत से अधिक शिंदे-बीजेपी गठबंधन के समर्थक हैं. बावनकुले ने कहा, “ग्राम पंचायत चुनाव के नतीजों ने आज महाराष्ट्र के शिंदे-फडणवीस सरकार में विश्वास की पुष्टि की है.” राज्य के 16 जिलों में फैली 547 ग्राम पंचायतों के चुनाव के लिए रविवार को मतदान हुआ था जिसमें 76 प्रतिशत वोटिंग हुई थी. ये चुनाव गैर दलीय आधार पर हुए थे. वोटों की गिनती सोमवार को हुई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *