Mon. Apr 15th, 2024

मंगलवार के दिन आईपीएल (IPL 2023) का पहला क्वालिफायर मैच खेला गया। ये मुकाबला चेन्नई सुपर किंग्स और गुजरात टाइटंस के बीच खेला गया और चेन्नई ने ये मुकाबला जीतकर फाइनल में अपनी जगह पक्की करली है। ये मुकाबला काफी दिलचस्प रहा, लेकिन मैच के दौरान एक ऐसा मामला भी पेश आया जिसको लेकर लोग काफी परेशान हैं। अपने देखा होगा कि मैच के दौरान मैदान पर धोनी अंपायर से बहस करते नज़र आए थे।

धोनी की अंपायर से ये बहस करीब 4 मिनट तक चली थी। जिसकी वजह से मैच को रोका रखा था। लोगों के मन में सवाल है कि आखिर ऐसा क्या हुआ था, जिसके कारण धोनी ने 4 से 5 मिनट तक मैच को रोका रखा। इसका जवाब भी सामने आ चुका है। दरअसल, एमएस धोनी ने पारी का 16वां ओवर मथीश पथिराना से करवाना चाहा। लेकिन अंपायर ने ऐसा करने से रोक दिया।

अंपायर का कहना था कि इस ओवर से पहले पथिराना मैदान से बाहर थे। जिसके कारण उनको कुछ देर पहले मैदान पर बिताना होगा, फिर जा कर वो गेंदबाज़ी कर सकते हैं। लेकिन धोनी पहले ही ठान चुके थे कि वह ये ओवर पथिराना से ही करवाएंगे, इस वजह से धोनी और पूरी चेन्नई की टीम ने चार मिनट तक इंतजार किया और बाद में पथिराना ने ही ये ओवर किया।

गौरतलब हैं कि 4 मिनट तक मैदान पर धोनी अंपायर से बातचीत ही करते रहे और जब पथिराना ने कुछ समय मैदान पर गुजार लिया तो अंपायर ने उनको गेंदबाज़ी करने की इजाजत दे दी। सोशल मीडिया पर ये मुद्दा काफी उठा हुआ है और धोनी के फैंस इसपर कमेंट कर रहे हैं। कुछ यूजर्स का कहना है कि धोनी ने जानबूझकर पथिराना से गेंदबाज़ी करवाने के कारण ओवर लेट किए। आपको बता दें कि इस मैच में जीत हासिल करने के बाद CSK सीधा फाइनल में पहुंच गई है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *