Sun. Apr 21st, 2024

न्यूज ऑफ इंडिया (एजेन्सी)

लखनऊ: दिनांक: वित्तीय साक्षरता के महत्व को समझते हुए डिपार्टमेन्ट ऑफ मैनेजमेन्ट स्टडीज, ए0के0टी0यू0 में सोमवार को फाइनेंसियल लिटरेसी फॉर यूज विषयक दो दिवसीय कार्यशाला का शुभारंभ हुआ। इस मौके पर सेबी की सहायक संस्था निस्म के प्रशिक्षक रोहित वर्मन ने बतौर मुख्य अतिथि अपने अनुभव साझा किया। उन्होंने कहा कि आज के दौर में चाहे कोई भी क्षेत्र हो वहां वित्तीय समझ का होना बेहद जरूरी है। खासकर युवाओं को वित्तीय साक्षर होना चाहिए। क्योंकि बिना जानकारी के नुकसान उठाना पड़ सकता है। कहा कि वर्तमान दौर उद्यमिता और नवाचार का है। युवा अब नौकरी की बजाय अपना खुद का व्यवसाय खड़ा करने पर जोर दे रहा है। इसलिए उसे वित्तीय समझ होनी चाहिए। उन्होंने वित्तीय साक्षरता के विभिन्न टिप्स दिये। वहीं, कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रतिकुलपति प्रो0 मनीष गौड़ ने कहा कि हर व्यक्ति को वित्तीय साक्षर होना चाहिए। खासकर छात्रों को। इसलिए यह दो दिवसीय कार्यशाला छात्रों के लिए बेहद कारगर साबित होगी। संचालन डा० वर्षा शुक्ला और संयोजन एसो. प्रोफेसर डा० रवि शर्मा ने किया।

इस मौके पर एसो डीन डॉ0 अनुज शर्मा, सहायक कुलसचिव रंजीत सिंह, विनय चतुर्वेदी, डा० गजेन्द्र गुप्ता, सुश्री आरजू गुप्ता, शेफाली सिंह, . प्रतिभा शुक्ला सहित छात्र-छात्राएं उपस्थित रहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *