नई दिल्ली: लॉक डाउन की वजह से बहुत से लोगों को खाने पीने की परेशा’नी हो रही है. कोरोना वाय’रस के विस्तार को रोकने के लिए सरकार ने देशव्यापी लॉक डाउन लगाया है. इस मु’श्किल समय में बहुत से लोग ज़रूरतमंद लोगों की मदद कर रहे हैं, इन्हीं में एक नाम है क्रिकेट खिलाड़ी सरफ़राज़ ख़ान का. सरफ़राज़ इस समय प्रवासियों की सेवा में लगे हैं.

रमज़ान के पाक महीने में रोज़ा रखने के बाद भी ये युवा खिलाड़ी अपने वालिद नौशाद और भाई मुशीर ख़ान के साथ मिलकर लोगों की मदद कर रहे हैं. आईपीएल में अपने खेल से लोगों का दिल जीत चुके मुंबई रणजी टीम के इस खिलाड़ी ने कहा,”कोरोना वा’यरस से लोग मुश्कि’ल में हैं। हमने पिछले कई दिनों से लोगों की मदद की है और आगे भी करेंगे। हमारी फैमिली ने फैसला किया है कि इस बार हम ईद पर खरीददारी के पेसों से लोगों की मदद करेंगे।”

उन्होंने साथ ही कहा,”हमसे जितना बन पड़ रहा है हम कर रहे हैं। कुछ लोग हैं, जिनका हमारे पास कॉल आया था कि आप से सीखकर हम लोगों ने भी मदद का अभियान शुरू किया है। यह अच्छी बात है। मैं लोगों से अपील करूंगा कि वे भी आगे आएं और इस नेक काम में मदद करें।” सरफ़राज़ लॉकडाउन की वजह से अपने पैतृक गाँव में फँसे हुए हैं. यहाँ सरफ़राज़ और उनके पिता ने मिलकर लोगों की मदद करने का फ़ैसला किया. अब तक उनकी फ़ैमिली ने खाने के 3000 पैकेट बाँटे हैं. सरफ़राज़ के पिता नौशाद बताते हैं,”हमने अब तक खाने के लगभग 1000 पैकेट बांटे है। हर पैकेट में एक सेब, एक केला, केक, बिस्कुट और पानी की बोतल है।”

By Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.