नई दिल्ली: पंजाब में कांग्रेस ने चरणजीत सिंह चन्नी को राज्य का मुख्यमंत्री बनाने का फ़ैसला किया है. मुख्यमंत्री पद के लिए चन्नी के नाम पर मोहर लग जाने के बाद वे कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत के साथ राज्यपाल से मिलने के लिए राजभवन रवाना हो गए हैं. कांग्रेस ने रविवार की शाम को कहा कि दलित चेहरा और निवर्तमान तकनीकी शिक्षा मंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के नए मुख्यमंत्री होंगे.

कांग्रेस के राज्य प्रभारी हरीश रावत ने उनके नाम की पुष्टि की. उन्होंने ट्वीट किया, “मुझे यह घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि चरणजीत सिंह चन्नी को चुना गया है. वे सर्वसम्मति से पंजाब के कांग्रेस विधायक दल के नेता चुने गए.” चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बनाए जाने के फ़ैसले के बाद पद के दूसरे प्रबल दावेदार माने जा रहे सुखजिंदर रंधावा ने कहा कि वे पार्टी हाईकमान के फैसले से ख़ुश हैं. उन्होंने कहा कि मैं सभी विधायकों का आभारी हूं, जिन्होंने मेरा समर्थन किया. चन्नी मेरे भाई हैं.

चरणजीत सिंह चन्नी को अगला मुख्यमंत्री बनाए जाने का फ़ैसला JW Marriott में हुई अहम् बैठक में लिया गया.इसके पहले ऐसी ख़बरें आयी थीं कि कांग्रेस की वरिष्ठ नेता और सांसद अम्बिका सोनी ने पंजाब का मुख्यमंत्री बनने से इनकार कर दिया है. उन्होंने मीडिया से कहा कि वह समझती हैं कि पंजाब का मुख्यमंत्री एक सिख को होना चाहिए. उन्होंने ये भी कहा कि अभी वह पूरी तरह से स्वस्थ्य नहीं हैं. सूत्रों की माने तो सुखजिंदर रंधावा इस रेस में पहले आगे बताये जा रहे थे लेकिन कुछ विधायकों ने उनके नाम का विरोध किया जिसके बाद चन्नी के नाम पर आम सहमति बनी.

By Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.