रियाद: कोरोना वायरस को लेकर पूरी दुनिया में चिंता है. दुनिया भर की सरकारें इस कोशिश में लगी हैं कि इस सं’क्रमण पर किसी तरह क़ाबू पाया जाए. कई देशों में लॉक डाउन है. सरकारों का डर इस बात को लेकर ज़्यादा है कि इस वायरस की ‘सेकंड वेव’ ज़्यादा भयावह न हो. फ़िलहाल कोरोना के फैलने में अब कमी देखी जा रही है. अमेरिका (US) में करीब तीन हफ़्तों के बाद संक्र’मण से हो रही दैनिक मौतों का आंकड़ा हज़ार से नीचे रहा है.

इतवार के रोज़ दुनिया भर में सं’क्रमण (Covid-19) के क़रीब 80,000 नए मामले सामने आए जिसके बाद कुल केस बढ़कर अब 41,78,000 से अधिक हो गए हैं. पिछले 24 घंटों में इस वायरस से मरने वाले लोगों की संख्या बढ़ कर 2,83,700 हो गयी है. सबसे ज़्यादा नए केस अमेरिका, रूस (Russia), ब्राजील (Brazil) और भारत (India) में सामने आए हैं. सऊदी अरब में इस वायरस को रोकने के लिए सरकार ने कई क़दम उठाये हैं.

Saudi Arabia

साथ ही सऊदी अरब(Saudi Arabia) ने इसके आर्थिक नुक़सानों से निपटने के लिए कई बड़े बदलाव करने की बात कही है. इसमें एक विशेष बात है कि सऊदी अरब ने वैट की दर को बढ़ाने का फ़ै’सला कर लिया है. सऊदी अरब ने वैट को तीन गुना बढ़ाने का फ़ै’सला कर लिया है. सरकारी समाचार एजेंसी के मुताबिक़ टैक्स में नए बदलाव जुलाई से लागू होंगे. आपको बता दें कि देश में वैट सन 2018 में लागू किया गया था. इसके अलावा सरकार ने कुछ और भी फ़ैस’ले लिए हैं जैसे कॉस्ट ऑफ लिविंग अलाउंस जून महीने से रोकने का फै’सला लिया है. सरकार के इस फ़ैस’ले से उम्मीद है कि अमीर लोगों पर प्रभाव पड़ेगा मगर ग़रीब इससे इतना परेशान न होंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *