मुंबई. महाराष्‍ट्र में कोरोना की रफ़्तार फिर से तेज़ हो गई है. इसको देखते हुए राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने जनता को संबोधित किया. उन्होंने इस महामारी को रोकने के लिए 15 दिनों के सख्त कर्फ्यू का एलान किया. उन्होंने जनता से आग्रह किया कि जब तक ज़रूरी काम न हो, घर से बाहर न निकलें. 14 अप्रैल से 15 दिन के लिए रात 8 बजे से सुबह 7 बजे तक धारा 144 लागू रहेगी.

उद्धव ठाकरे ने कहा कि महाराष्ट्र में मौत का आंकड़ा सबसे ज्यादा है. राज्य पर काफी दबाव आ गया है. आज चारो तरफ से हमपर दबाव है, ऑक्सीजन की कमी है. कबतक हम केवल चर्चा करते रहेंगे. ये जो समय है अगर एकबार हमारे हाथ से निकल गया तो बहुत दिक्कत होगी. उन्‍होंने कहा कि हमें टीकाकरण को बहुत बढ़ाना होगा. शायद हम इसको खत्म नहीं कर पाएं लेकिन कोरोना की लहर को जरूर कम कर सकते हैं. अभी तक हम इस लहर के पीक तक पहुंचे हैं या नहीं ये नहीं मालूम. ये कहां तक पहुंचेगा नहीं पता.

मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले साल जिद और संयम की वजह से कोविड-19 पर हमने नियंत्रण पाकर दिखाया था. लेकिन इसबार जो लहर है वो काफी ख़तरनाक है. 15 दिन बाद कितने केस होंगे ये कहना मुश्किल है. हम लड़ेंगे और इस जंग को जीतेंगे. मरीजों की जो संख्या बढ़ रही है वो भयावह है. दवाइयां कम पड़ रही है. आने वाले दिनों में हम इस स्वास्थ्य सेवा को बढ़ाने वाले हैं.

उन्होंने कहा कि जो जो करना संभव है, हम वो कर रहे हैं. अब कड़े कदम उठाने का वक्त आ गया है. मैं लॉकडाउन की बात नहीं कर रहा हूं लेकिन कुछ पाबंदियां जरूरी है. रोजी रोटी जरूरी है. जान बचाना भी जरूरी है. जान बचाना आज सबसे बड़ा मुद्दा है. हम आपको बताते हैं किन चीजों पर छूट रहेंगे और किसपर लागू होगी पाबंदी.

आपको बता दें कि महराष्ट्र में आज रात आठ बजे से अगले 15 दिन के लिए अतिरिक्त पाबंदियां रहेंगी. हलाकि लोकल, बसें सहित ट्रांसपोर्ट के साधन खुले रहेंगे. बैंक, पेट्रोल पम्प, ई कॉमर्स के कामकाज होते रहेंगे. रेस्टोरेंट खोलने की इजाज़त होगी लेकिन खाना घर ले जाकर ही खा सकेंगे, खाना डिलीवरी की सुविधा चालू रहेगी. कंस्ट्रक्शन से जुड़े मज़दूरों को साईट पर ही रहने की व्यवस्था कराये जाने के आदेश हुए हैं.

By Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.