कोलकाता: पश्चिम बंगाल विधानसभा चु’नाव कोरोना संक्र’मण के बढ़ते हुए मामलों के बीच हो रहा है। 294 सीटों के लिए कुल 8 चरणों मे चुनाव सम्पन्न कराने का कार्यक्रम चुनाव आयोग ने तय किया था। सात चरणों के लिए मतदान प्रक्रिया पूरी हो गई है। अं’तिम यानी आठवें चरण के लिये वोटिंग 29 अपैल को होनी है। देशभर में कोरोना संक्रमण दिन प्रतिदिन बढ़ता ही जा रहा है।

इसी विषय पर हाई को’र्ट ने कहा है कि को’रोना वायरस की दूसरी लहर के लिए चुनाव आयोग के अधिकारी जिम्मेदार हैं। ऐसे में क्यों ना चुनाव आयोग के अधिकारियों के खिलाफ ह’त्या के आरोपों पर मुकदमा दर्ज किया जाए। मद्रास हाई कोर्ट के इस फै’सले का स्वागत पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और तृणमूल कांग्रेस की नेता ममता बनर्जी ने किया है।

उन्होंने चुनाव आयोग पर निशा’ना साधते हुए कहा है कि बंगाल में चुनाव 8 चरणों मे लोगों की ह’त्या करने के लिए नही है क्या। चुनाव आयोग बीजेपी के इशारों पर काम कर रहा है। हमने चुनाव आयोग से आग्रह किया था कि चुनाव के चरण एक साथ करवा दीजिये लेकिन आयोग ने यह बात नही सुनी। वहीं दूसरी तरह लगभग 2 लाख केंद्रीय अर्धसैनिक बलों को बंगाल भेज दिया जिसकी वजह से कोरोना का ख’तरा और बढ़ गया।

ममता बनर्जी ने बीजेपी और चुनाव आयोग को कोरोना संक्रमण के लिए ज़िम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा है कि वो चुनाव आयोग को कटघरे में खड़ा करेंगीं। पीएम मोदी मन की बात कर रहे हैं, पर कोरोना की नहीं। इसपर ममता बनर्जी ने कहा है कि हम कांस्टीट्यूशनल बेंच में जाएंगे। ममता ने वैक्सीन की सप्लाई पर केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि वैक्सीन विदेश भेजी गई लेकिन देश के लोगों को क्या मिला। बंगाल का ऑक्सीजन उत्तर प्रदेश में भेजा गया बंगाल के लिए ऑक्सीजन हम कहां से लाएंगे।

By Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.