अशोक गहलोत के दाँव से भाजपा चौं’की, चुनाव से पहले ये देगा कांग्रेस को मज़बूती..

राजस्थान में अगले साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। जिसके चलते अभी से ही राज्य में सियासी उठापटक देखने को मिलने लगी है। राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने चुनावों से पहले एक बड़ा दांव चल दिया है। खबरों के मुताबिक, गहलोत सरकार ने शहरी क्षेत्रों के लिए इंदिरा गांधी नौकरी गारंटी योजना की शुरुआत किए जाने की तैयारी कर ली है। बताया जा रहा है कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत इसी योजना का शुभारंभ करने जा रहे हैं।

इस योजना के तहत अब राज्य में 18 साल से लेकर 60 साल के लोगों को रोजगार दिए जाएंगे। राज्य सरकार की तरफ से यह कहा जा रहा है कि शहरी क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध करवाने की देश की यह सबसे बड़ी रोजगार योजना है। जानकारी के मुताबिक गहलोत सरकार द्वारा वित्तीय वर्ष 2022-23 में इस योजना के लिए 800 करोड रुपए का बजट प्रावधान रखा गया है।

दरअसल भारत में आई कोरोना महामारी के दौरान बड़ी तादाद में लोगों से रोजगार छिन चुके हैं। रोजगार छिन जाने की वजह से जो परिवार कमजोर और असहाय हो गए हैं। यह योजना उनके लिए रामबाण साबित हो सकती है। आपको बता दें कि इस योजना के तहत आवेदन ई-मित्र के जरिए निशुल्क किया जा सकता है। राज्य सरकार द्वारा आवेदन करने की 15 दिन के अंदर ही रोजगार उपलब्ध करवाए जाने का प्रावधान रखा गया है।

गौरतलब है कि देशभर में ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार मुहैया करवाने के लिए यूपी सरकार द्वारा ही महात्मा गांधी राष्ट्रीय रोजगार योजना की शुरुआत की गई थी। इस योजना के जरिए भी बड़ी तादाद में लोगों को रोजगार मिले हैं। कोरोना के दौरान भी जब रोजगार संकट बढ़ा तो यह योजना लोगों के लिए वरदान साबित हुई थी। राजस्थान विधानसभा चुनाव से पहले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत द्वारा शुरू की गई योजना भाजपा के लिए परेशानी का सबब बन सकती है.

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.