योगी आदित्यनाथ को उन्हीं के खेल में मात देना चाहती हैं प्रियंका गांधी? डॉक्टर कफ़ील के बारे में चिट्ठी की ख़ास बात..

July 31, 2020 by No Comments

दिल्ली/लखनऊ: कांग्रेस नेता प्रियंका गांधी ने डॉक्टर कफ़ील ख़ान की गिरफ़्तारी का मामला उठाया है. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की महासचिव प्रियंका गांधी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को एक ख़त लिखकर अपील की कि डॉक्टर कफ़ील ख़ान के साथ न्याय किया जाए. पत्र में महासचिव प्रियंका गांधी ने लिखा है कि मैं डॉक्टर कफ़ील खान का मामला आपके संज्ञान में लाना चाहती हूँ.

प्रियंका ने कहा कि वे अब तक लगभग 450 दिन से ज्यादा जेल में गुजार चुके हैं. डॉ कफ़ील ने कठिन परिस्थितियों में निःस्वार्थ भाव से लोगों की सेवा की है. उन्होंने पत्र में कहा है कि मुझे उम्मीद है कि आप अपनी संवेदनशीलता का परिचय देते हुए डॉ कफ़ील को न्याय दिलवाने का पूरा प्रयास करेंगे। प्रियंका ने अपने पत्र में गुरु गोरखनाथ की सबदी का ज़िक्र भी किया.

उन्होंने गुरु गोरखनाथ की पंक्तियाँ साझा कीं-“मन में रहिणाँ, भेद न कहिणाँ..बोलिबा अमृत वाणी…अगिला अगनी होईबा…हे अवधू तौ आपण होईबा पाणीं” पत्र में इन पंक्तियों का भावार्थ लिखा है कि किसी से भेद न करो, मीठी वाणी बोलो। यदि सामने वाला आग बनकर जला रहा है तो हे योगी तुम पानी बनकर उसे शांत करो. प्रियंका गांधी ने जिस प्रकार गुरु गोरखनाथ की पंक्तियों का ज़िक्र किया है उससे ऐसा लगता है कि वो अब योगी आदित्यनाथ को हर तरफ़ से घेरना चाहती हैं.

आपको बता दें कि पिछले कुछ महीनों में कांग्रेस उत्तर प्रदेश में काफ़ी एक्टिव रही है. उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार ‘लल्लू’ समेत कई नेताओं को कुछ रोज़ हिरासत में भी रहना पड़ा लेकिन पार्टी संघर्ष करती नज़र आ रही है. डॉक्टर कफ़ील की रिहाई का मुद्दा उठाकर और उसमें गुरु गोरखनाथ की पंक्तियों का ज़िक्र कर प्रियंका ने एक तीर से दो निशाने लगाए हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *