समानांतर विधानसभा सत्र में CM नीतीश कुमार बर्ख़ास्त! बिहार में..

March 28, 2021 by No Comments

पटना: बिहार विधानसभा के बजट सत्र में मंगल के रोज़ सशस्त्र पुलिस बल विधेयक 2021 को लेकर जैसी स्थिति उत्पन्न हुई उसके बाद विपक्ष ने बुध के रोज़ सदन का बायकाट किया. कांग्रेस विधायकों ने आँखों पर काली पट्टी बाँध ली. इसके साथ ही विपक्ष ने समानांतर सदन भी चलाया. बिहार विधानसभा की कार्यवाही में विपक्ष ने हिस्सा नहीं लिया और विरोध में विपक्षी दलों ने मिलकर खुले मैदान में सदन की कार्यवाई चलाई.

लॉन में सामानांतर लगे सदन में भूदेव चौधरी को अध्यक्ष बनाया गया. इसके बाद मंगलवार की घटना को लेकर एक निंदा प्रस्ताव लाया गया. इस समानांतर सत्र ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बर्ख़ास्त कर दिया. ये प्रस्ताव ध्वनि मत से पारित हुआ. इधर, विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि मंगलवार को विधानसभा में जो भी हुआ वह काफी शर्मनाक है. उन्होंने कहा कि हम विपक्षी दल के हैं हमारा अधिकार विरोध करने का है.

उन्होंने कहा कि जिस तरह विधायकों को घसीटकर सदन से बाहर निकाला गया, लात-घूसे मारे गए, वह शर्मनाक है. उन्होंने कहा कि महिला सदस्यों को अपमानित किया गया. उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा, ‘सदन में मुझे बोलने तक नहीं दिया गया. जब विपक्ष को बाहर कर दिया गया तब मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विपक्ष से प्रश्न करने की बात कर रहे थे.’ तेजस्वी ने मुख्यमंत्री को झूठा मुख्यमंत्री बताया.

विपक्ष के सदस्यों ने विधायकों से मारपीट करने वाले अधिकारियों को बर्खास्त करने की मांग की. इधर, राजद के विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि सदन में जब माननीयों की प्रतिष्ठा ही नहीं रहेगी तो सदन में जाने से क्या लाभ. उन्होंने कहा कि विपक्ष तो विधयेक का विरोध कर रहा था. इसके बाद बाहर से पुलिस बुला ली गई. बता दें कि मंगलवार को एक विधेयक को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष आमने-सामने आ गया था. इसके बाद विधनसभा में जमकर हंगामा हुआ. सुरक्षाकर्मियों द्वारा विपक्ष के विधायकों को बाहर निकाल दिया गया.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *