लखनऊ: उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर सभी राजनीतिक दल अपनी तैयारियां कर रहे हैं। अपनी पार्टी की मज़बूती के लिए गठबंधन के रास्ते तालाश रहे हैं। इसी बीच, बीजेपी के पूर्व सहयोगी सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओम प्रकाश राजभर ने आम आदमी के नेता व दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल से सोमवार को गठबंधन की ज़रूरी बातचीत का एलान किया। सोमवार को भागीदारी संकल्प मोर्चा के साथ “आप” की गठबंधन के लिए महत्वपूर्ण बात होगी। इस मुलाकात में आप सांसद संजय सिंह भी मौजूद रहेंगे।

राजभर ने बताया कि उनकी पिछले दिनों आप सांसद संजय सिंह से मुलाकात हुई थी। जिसके बाद उन्होंने अरविंद केजरीवाल से फोन पर बातचीत की। 17 जुलाई को मुलाकात का दिन तय किया गया। राजभर ने दावा किया कि समाजवादी पार्टी से भी गठबंधन के लिए शुरुआती बातचीत हुई है। जन अधिकार पार्टी के अध्यक्ष व पूर्व मंत्री बाबू सिंह कुशवाहा की भी अखिलेश यादव से मुलाकात हुई। जब उनसे सवाल किया गया कि क्या असदउद्दीन ओवैसी के साथ अखिलेश यादव गठबंधन के लिए राज़ी होंगे। इस पर उन्होंने कहा कि राजनीति में कोई दु’श्मन नहीं होता, सभी दल बीजेपी की सरकार बनने से रोकना चाहते हैं।

बता दें कि, 2022 विधानसभा चुनाव के लिये एआईएमआईएम के प्रमुख असदउद्दीन ओवैसी ने यह एलान किया था कि वह योगी आदित्यनाथ को मुख्यमंत्री नही बनने देंगे। उन्होंने यह घोषणा की थी कि उनकी पार्टी 2022 के चुनाव में 100 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। वहीं बीजेपी ने अपना दल (एस) की प्रमुख अनुप्रिया पटेल को अपनी तरफ कर लिया है। अनुप्रिया पटेल को पीएम मोदी ने अपने कैबिनेट विस्तार में मंत्री पद भी दिया है। वहीं दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी का इरादा छोटे दलों के साथ गठबंधन करने का है। बसपा प्रमुख मायावती पहले ही एलान कर चुकी हैं कि बसपा 2022 यूपी विधानसभा चुनाव अकेले ल’ड़ेगी।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *