किसान आन्दोलन में ट्रैक्टर रैली के बाद अब होगा रेल रोको कार्यक्रम

February 16, 2021 by No Comments

केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानून के विरोध में देश का अन्नदाता दिल्ली की सीमाओं पर आन्दोलन कर रहा है। पिछले 2 महीनों से ज़्यादा हो गए लेकिन किसान अब भी बॉर्डर्स पर प्रदर्शन कर रहे हैं। 26 जनवरी के दिन किसानों ने दिल्ली में ट्रैक्टर परेड निकाली थी जिसके बाद काफी बवाल भी हुआ था। पर अब भारतीय किसान यूनियन के नेता और राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत 18 फरवरी को रेल रोको आंदोलन की रणनीति बना रहे है। राकेश टिकैत ने कहा कि “दिन में 12 बजे से चार बजे तक रेल रोको कार्यक्रम चलेगा। किसान बीच रास्ते में रेल नहीं रोकेंगे, स्टेशन पर ही तीन चार-घंटे के लिए रेल रोकी जाएगी”।

उन्होंने आगे कहा कि किसान इंजन पर फूल चढ़ाकर रेल रोकेंगे और यात्रियों को चाय नश्ता कराएंगे। इस दौरान यात्रियों को देश में बढ़ रही महंगाई और किसानों की समस्याओं के बारे में बताएंगे। किसान सरकार को यह संदेश देंगे कि यह आंदोलन देशभर में फैल चुका है। राकेश टिकैत ने कहा कि यूपी गेट पर जो किसान धरना दे रहे हैं, वह यहीं रहेंगे। अपने-अपने गांव से किसान अपने निकटवर्ती स्टेशन पर पहुंचकर रेल रोकेंगे। यह आंदोलन पूरा शांतिपूर्ण तरीके से होगा। पहले इंजन पर फूल माला चढ़ाकर रेल रोकेंगे।

तो वहीं, रेल रुकने के दौरान यात्रियों को चाय पानी, नाश्ता आदि कराया जाएगा। यह सब सामान किसान अपने गांव से लेकर आएंगे। इस दौरान यात्रियों को बताया जाएगा कि देश में आटा, दाल, तेल, पेट्रोल, डीजल आदि सामान का भाव आसमान छू रहा है। बढ़ती महंगाई से किसान भी परेशान हैं। सरकार अन्नदाता की नहीं सुन रही है। आपको बता दें कि सोमवार को तेलंगाना, राजस्थान, पंजाब और केरल से किसान आंदोलन में अपना समर्थन देने पहुंचे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *