तेजस्वी यादव के प्लान से जदयू को लगा झ’टका, बिहार में राजद का बड़ा दाँव..

June 26, 2021 by No Comments

पटना: लोकजनशक्ति पार्टी में फू-ट पड़ने के कारण पार्टी में चिराग पासवान और उनके चाचा पशुपति कुमार पारस के बीच हक की ल’ड़ाई जारी है। इसी वजह से बिहार की राजनीति में हलचलों की बाढ़ है। इसी बीच राजद ने चिराग को राजद में मिलाने की कोशिशें शुरू कर दी हैं। राजद चाहती है कि चिराग पासवान जैसे युवा नेता राजद से जुड़ जाएं। जिसके लिए राजद चिराग पासवान को महागठबंधन में लाने की कोशिश कर रही थी। लेकिन अब उनको खुश करने के लिए एक तेजस्वी यादव ने नई घोषणा की है।

5 जुलाई को राजद ने चिराग पासवान के दिवंगत पिता और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की जयंती मनाने की घोषणा की है। सूत्रों के मुताबिक, राजद के यह प्रयास चिराग को अपनी तरफ मिलाने के लिए किया गया है। पिछले चुनाव में एलजेपी ने एनडीए से अलग होकर चुनाव ल’ड़ा था। जिसमे एलजेपी को करीब 6 प्रतिशत (26 लाख) वोट मिले थे। तेजस्वी यादव दूर की कौड़ी सोचते हुए भविष्य की स्थिति को भांप रहे हैं। ताकि अगर चिराग उनकी तरफ आ जाते हैं, तो 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव के साथ 2025 में होने वाले विधानसभा चुनाव में इसका फायदा हो सकता है।

एलजेपी में फूट पड़ने के बाद तेजस्वी यादव ने चिराग को अपनी तरफ आने का प्रस्ताव दिया है तो वहीं कांग्रेस के राज्यसभा सांसद अखिलेया प्रसाद सिंह ने कहा था कि सभी चाहते हैं कि वो हमारे साथ रहें क्योंकि वह बिहार के एक बड़े नेता हैं। जदयू और बीजेपी ने उन्हें धो’खा दिया है। 5 जुलाई के दिन चिराग पासवान ने अपने दिवंगत पिता रामविलास पासवान के जन्मदिन पर 5 जुलाई से हाजीपुर से ‘आशीर्वाद यात्रा’ शुरू करने का ऐलान किया है। बता दें कि हाजीपुर संसदीय क्षेत्र उनके पिता की कर्मभूमि रहा है।आशीर्वाद यात्रा को पूरे बिहार में करके वह जनाधार की ताकत का इस्तेमाल करते हुए आगे कानूनी संघर्ष का रास्ता बनाएंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *