नई दिल्‍ली/ काबुल: अफ़ग़ानिस्तान में तालिबान की जीत के बाद भारत सरकार ने वहाँ होने वाले घटनाओं पर बारीकी से नज़र बनाए हुए है. भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने ये कहा है. साथ ही उन्होंने कहा कि फ़िलहाल हमारा ध्यान इस ओर है कि किस तरह से अफ़ग़ानिस्तान में मौजूद भारतीय नागरिकों को सुरक्षित देश वापिस लाया जाए. विदेश मंत्री से जब ये सवाल किया गया कि वो देश के मौजूदा हालात को किस तरह देखते हैं.

इस पर उन्होंने कोई सीधा जवाब नहीं दिया और कहा कि अभी शुरू के ही दिन हैं. न्यूयॉर्क में संवाददाताओं से बात करते हुए उन्होंने कहा,”इस समय हम काबुल के हालात पर ध्यान दे रहे हैं..तालिबान और इसके प्रतिनिधि काबुल पहुंच गए हैं इसलिए मुझे लगता है कि हमें चीजों को वहां से शुरू करने की जरूरत है.”

जब उनसे भारत के अफ़ग़ानिस्तान में निवेश के मुद्दे पर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा,”अफगानिस्‍तान के लोगों के साथ ऐतिहासिक संबंध जारी है.” उन्‍होंने कहा, ‘यह आने वाले दिनों में हमारे दृष्टिकोण का निर्धारण करेगा. मुझे लगता है कि यह शुरुआती दिन हैं और हमारा फोकस वहां मौजूद भारतीय लोगों की सुरक्षा पर हैं.”

जयशंकर ने कहा,”वह यहां मेरी वार्ताओं के केंद्र में है, संयुक्त राष्ट्र महासचिव और अन्य सहयोगियों के साथ ही अमेरिका के विदेश मंत्री से भी इस पर चर्चा कर रहा हूं.’ भारत अगस्त महीने के लिए सुरक्षा परिषद की अध्यक्षता कर रहा है.” उल्लेखनीय है कि विदेश मंत्री सोमवार के रोज़ न्यूयॉर्क पहुँचे थे. वह संयुक्त राष्ट्र की सुरक्षा परिषद की आपातकालीन बैठक में शामिल होने यहाँ पहुँचे थे. ये बैठक अफ़ग़ानिस्तान के ताज़ा घटनाक्रम को ध्यान में रखकर बुलाई गई थी.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *