बिहार के कटिहार में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता नवजोत सिंह सिद्धू ने एक ऐसा बयान दिया था जिसके बाद विवाद हो गया. उन्होंने कहा,”चेतावनी देने आया हूँ मुस्लिम भाइयों, मेरे मुसलमान भाई जितने भी हैं वो ये मेरी पगड़ी है..आप सब लोग पंजाब में भी काम करने जाते हो और पंजाब में आपको हमारी तरफ़ से प्यार मिलता है…मेहमाँ जो हमारा होता है वो जान से प्यारा होता है..”

उन्होंने आगे कहा,”अगर आपको कोई दिक़्क़त हो पंजाब में मैं मंत्री हूँ, जिस दिन पंजाब आइएगा, सिद्धू को अपने साथ खड़ा पाइयेगा..मैं आपको चेतावनी देने आया हूँ बहनों भाइयों, ये बाँट रहे हैं आपको, ये यहाँ ओवैसी साहब जैसे लोगों को लाके…एक नई पार्टी खड़ी कर के, आप लोगों का वोट बाँट के जीतना चाहते हैं..अगर तुम इकट्ठे हुए, 64% आपकी आबादी है, माइनॉरिटी मेजोरिटी में है…एक जुट होकर वोट डाला तो सब उलट जाएँगे, मोदी सुलट जाएगा…छक्का लग जाएगा।”

इसके साथ ही सिद्धू ने अपने क्रिकेट के दिनों का उदाहरण देते हुए कहा,” मैं जब जवान था तब छक्का मारता था…अभी भी जवान हूँ…एक छक्का मारा और छक्का मार कर बॉल बाउंड्री के पार…लेकिन एक बात याद रखना ऐसा छक्का मारो कि मोदी को यहाँ बाउंड्री से पार मारो।” सिद्धू के बयान को समुदाय विशेष से धर्म विशेष के नाम पर वोट मांगने की श्रेणी में रखा जा सकता है. इस पर चुनाव आयोग क्या प्रतिक्रिया करता है ये आने वाले समय में देखने को मिलेगा.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.