शिवसेना ने एक बार फिर मोदी सरकार पर बोला ह’मला,’सबसे बड़ा रा’क्षस तो..’

नई दिल्ली: संसद में राष्ट्रपति के भाषण पर चर्चा करते हुए शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने अपना पक्ष रखते हुए भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार की आलो’चना की. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति का जो भाषण होता है वो सरकार के मन की बात होती है लेकिन देश में भी एक आवाज़ उठ रही है वो भी सुननी चाहिए. उन्होंने कहा कि कोई शक्ति है जो देश को फिर एक बार तो’ड़ना चाहता है, देश की एकता पर ख़’तरा पैदा करना चाहता है. उन्होंने कहा कि टुक’ड़े टु’कड़े गैं’ग की बात हुई लेकिन नफ़रत उनसे भी नहीं करनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि इस देश के नागरिक लम्बे वक़्त से धरना दे रहे हैं, सरकार को उनकी बात सुननी चाहिए भले वो किसी धर्म के हों. राउत ने भाजपा के ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ पर भी तंज़ किया. उन्होंने कहा कि विकास तो होता ही रहता है, विश्वास की बात है और साथ की बात है.. 30 साल तक हमारा साथ था न..विश्वास की बात करें तो सबसे ज़्यादा विश्वासघा’त हमारे साथ ही हुआ है.

उन्होंने कहा कि देश के सामने जो असली समस्या है उसको राष्ट्रपति जी ने टच नहीं किया. उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति जी ने कहा कि सबका साथ सबका विश्वास के मन्त्र पर सरकार चल रही है और सरकार पूरी निष्ठा और ईमानदारी से काम कर रही है.. हमारे मन में तो कोई शंका नहीं आपके बारे में तो आपके मन में शंका क्यूँ है..ऐसा माहौल क्यूँ है. वरिष्ठ नेता ने कहा कि आपने सब दिया होगा हम मानते हैं लेकिन आपने लाखों करोड़ों बेरोज़गार युवाओं को काम नहीं दिया है. आर्थिक मंदी की वजह से बेरोज़गारी का रा’क्षस खड़ा हो गया है.

उन्होंने कहा कि राष्ट्रपति जी ने इस बात का ज़िक्र नहीं किया, अगर वो करते तो हम उनके भाषण का समर्थन करते. उन्होंने कहा कि आज वो स्थिति है कि किसान ही नहीं बेरोज़गार भी ख़ुदकु’शी कर रहे हैं. बजट का सबसे लंबा भाषण देने का मतलब ये नहीं कि अर्थव्यवस्था मज़बूत हो गई. राउत ने कहा कि कश्मीर में 370 और 35 A को ख़’त्म किया गया और हमने समर्थन भी किया लेकिन अभी भी सैनिकों की हत्याएं हो रही हैं..उन्होंने कहा कि आज भी कश्मीर में कोई ज़मीन नहीं ख़रीद सकता.

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.