भोपाल: मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता शिवराज सिंह चौहान ने चुनाव प्रचार के दौरान सेना के शौर्य का इस्तेमाल कथित रूप से चुनावी फ़ायदे के लिए किया है. इस बारे में अब चुनाव आयोग कोई संज्ञान लेता है या नहीं ये आने वाले दिनों में देखने की बात होगी. उन्होंने एक सभा को संबोधित करते हुए अभिनन्दन वर्तमान का ज़िक्र किया और कहा कि एक हमारे अभिनन्दन पाकिस्तान की धरती पर F-16 को मारने के चक्कर में उतर गए थे.

उन्होंने आगे कहा,”सोच रहे थे लोग, पकड़े गए..अब आएँगे कि नहीं आएँगे लेकिन कह दिया भारत ने कि अगर बाल बाँका भी हुआ तो पाकिस्तान का नाम ओ निशाँ मिटा दिया जाएगा.” ये बयान कितना आचार संहिता के दायरे में आता है ये तो जानकार ही बता सकेंगे. वहीँ शिवराज सिंह चौहान ने भोपाल में एक मार्च भी निकाला.

लालटेन लेकर उन्होंने ये मार्च निकाला. उन्होंने कहा कि जब से कांग्रेस आयी है, बिजली चली गई है. दिग्विजय ने मध्य प्रदेश को अन्धकार में धकेल दिया था और अब वही दौर वापिस आ रहा है.. ‘लालटेन’ अंधियारे का संकेत है, इसी लिए हम लोगों में जागरूकता फैलाने के लिए मार्च कर रहे हैं. आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके हैं. भोपाल से इस बार वो लोकसभा चुनाव ल’ड़ रहे हैं. उनको ट’क्कर देने के लिए भाजपा ने प्रज्ञा ठाकुर को चुनावी मैदान में उतारा है. प्रज्ञा पर आतं’कवाद की धाराओं में मुक़दमे दर्ज हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here