लोग जब भी सऊदी अरब हज करने या उमराह करने जाते हैं तो वो फोटो भी ख़ूब खिंचवाते हैं. कई बार ऐसा भी महसूस होता है कि कुछ लोगों का फ़ोकस फ़ोटो खिंचवाने पर इतना अधिक होता है कि धार्मिक प्रक्रिया को वो उतने भाव से कर भी पाते हैं या नहीं, इसका कोई एहसास नहीं. इसी को देखते हुए सऊदी अरब की सरकार ने काबा शरीफ़ और मस्जिद ए नबवी के पास फ़ोटो और वीडियो लेने पर प्रति’बन्ध लगा दिया है.

सऊदी अरब ने इस्लाम के दो पवित्र स्थानों यानी काबा और मस्जिद-ए-नबवी में फोटो और वीडियो पर प्रतिबंध लगा दिया। अधिकारियों ने कहा कि गड़बड़ी से बचने के लिए निर्णय लिया जाता है जो उपासकों द्वारा देखा जा रहा है। प्रतिबंध मक्का की महान मस्जिद और मदीना की मस्जिद-ए-नबवी तक सीमित नहीं है, बल्कि आसपास के क्षेत्रों में भी लागू होता है।

मीडिया में छपी ख़बरों के मुताबिक़ इस प्र’तिबन्ध का जो भी शख्स उल्लंघन करता है उसे दंड का सामना करना पड़ सकता है.सरकारी सूत्र बताते हैं कि फोटो खींचने के लिए इस्तेमाल में आया कैमरा या मोबाइल फ़ोन ज़ब्त किया जा सकता है. इसके अतिरिक्त मज़ीद क़ानूनी कार्यवाई की जा सकती है.कुल मिलाकर सऊदी सरकार के इस फ़ैसले ने उन श्रद्धालुओं को सुकून दिया है जो इस तरह की फ़ोटोबाज़ी से परेशान रहते थे. हमारे देश में भी कई जगह हम देखते हैं कि लोग जो काम करने गए हैं उससे ज़्यादा ध्यान इस बात पर है कि किस तरह के लुक में फ़ोटो खींच लिया जाए. यही वजह है कि कई बार बहुत अजीब सी स्थिति बन जाती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *