सऊदी अरब ने हज यात्रा पर जारी की नई गाइडलाइंस, अगर यह किया तो होगा..

July 13, 2020 by No Comments

सऊदी अरब: कोरो’ना संक्रम’ण की वजह से सभी देशों की सरकारों ने आवाजाही पर रोक लगा दी थी। जिसकी वजह से हज यात्रा को लेकर भी अट’कलें सामने आ रही थीं। लेकिन अब सऊदी अरब ने कुछ नियमों के साथ हज यात्रा के लिए इजाज़त दे दी है। रविवा’र को सऊदी अरब के गृह मंत्रालय ने हज को लेकर नई गाइडलाइंस जारी की हैं। जिसके तहत बिना परमिट के हज करने पर यात्रियों को तकरीबन दो लाख तक का जुर्मा’ना भरना पड़ सकता है। यदि कोई व्यक्ति दूसरी बार हज करते पकड़ा जाएगा तो उसे दुगना जुर्मा’ना अदा करना होगा। वहीं ऐसा बार बार दोहराने पर व्यक्ति को जेल भी भेजा जा सकता है।

ख’बरों के अनुसार, कोरो’ना के चलते सऊदी अरब ने हज पर जाने वालों की संख्या कम कर दी थी। वहीं अब कोरो’ना के बढ़ते सं’क्र’मण के कार’ण सऊदी अरब में 21 दिनों के लिए क’र्फ्यू लगाने की बात भी कही गई थी। गृह मंत्रालय द्वारा एक बयान में कहा गया था कि सऊदी में 19 जुलाई से लेकर 2 अगस्त तक प्रति’बंध लगाया जाएगा। इस मामले में जानकारी देते हुए सऊदी प्रेस एजेंसी ने कहा कि “गृह मंत्रालय के एक आधिकारिक सूत्र ने सभी नागरिकों और बाशिं’दों से आगामी धार्मिक यात्राओं के दौरान नियमों का पालन करने को कहा है। उन्होंने ज़ोर दिया है कि हज के दौरान सुरक्षाकर्मी नियमों के उल्लं’घन को रोकने के लिए पवि’त्र स्थलों तक जाने वालीं सभी सड़कों और रास्तों पर तैनात रहेंगे।”

Hajj 2020


बता दें कि इससे पहले भी हज को लेकर सऊदी अरब ने गाइडलाइंस जारी की थी। जिसमें हज करने वालों की संख्या दस हज़ार तक कम कर दी थी। वहीं यह भी कहा था कि इस साल सऊदी अरब के केवल 30 प्रतिशत लोग ही हज कर सकेंगे। सऊदी प्रेस एजेंसी के अनुसार, सरकार उन लोगों को हज का तोहफा देना चाहती है जो सं’क्र’मण से बिना किसी खौ’फ के ल’ड़ रहे हैं। जारी की गई गाइडलाइंस में कहा गया है कि इस साल सिर्फ एक हज़ार लोगों को ही हज करने की इजाजत दी जाएगी। हज करने वाले सभी यात्रियों के पास डॉक्युमेंट्स के साथ साथ पीसीआर टेस्ट सर्टिफिकेट होना भी जरूरी है। वहीं यात्रियों को कोरो’ना के दौर में क्वारंटाइन के नियमों का पालन भी करना होगा।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *