सऊदी अरब में महिलाओं की पाबं’दियों की बातें अब बी’ते ज़;माने की बात हो चुकी है। इन दिनों तो सऊदी अरब सरकार महिला सशक्तिकरण को ही अपना मु’द्दा बनाकर चल रही है जिसके चलते सऊदी की महिलाएँ भी सरकार का खुलकर समर्थन कर रही हैं और देश विदेश से भी सऊदी अरब सरकार को बधाइयाँ मिल रही हैं।

सऊदी अरब में आज महिलाओं के सश’क्तिकरण की एक नई हवा बह रही है। एक के बाद एक उन पर लगी पाबं;दियों से छुटका’रा दिया जा रहा है और उन्हें वह अधि’कार दिए जा रहे हैं, जो आज से पहले उनके लिए दुर्ल’भ थे। बता दें कि सऊदी अरब के प्रिंस सलमान ने अपने ख़ास कार्यक्रम विज़न 2030 के अंतर्गत कई बड़े फ़ैसले लिए हैं। जिसकी वजह से दुनिया का ध्यान इस समय सऊदी अरब में चल रही बद’लाव की नई बया’र की तरफ खिंचा है।

प्रतीकात्मक तस्वीर

यह बद’लाव ख़ासतौर पर महि’लाओं को लेकर किए गए हैं। जो सबसे बड़ा बद’लाव माना जा रहा है, उसके अंतर्गत सऊ’दी अरब में अब महिलाओं को सश’क्त बलों में से’वाएं देने की अनुमति मिल गई है। यही वजह है कि सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय ने प्रिंस सलमान के इस फ़ै’सले को ऐतिहासिक बदलाव बताया है। उन्होंने कहा की अब कोई भी महिला सश’क्त से’ना में अपनी से’वा दे सकती है। महिला सश’क्तिकर’ण की दिशा में सऊदी अरब का यह फ़ै’सला एक मी’ल का प’त्थर माना जा रहा है।

इससे पहले प्रिंस सलमान महिलाओं पर से वाहन चलाने का प्रतिबं’ध ह’टा कर उन्हें वाहन चलाने की अनुमति भी दे चुके हैं। उल्लेखनीय है कि यहां महिला’ओं को हवाई जहाज उड़ाने, और फ़्लाइट अटेंडेंट के रूप में कार्य करने के लिए भर्ती की योजना की भी घोष’णा की जा चुकी है। साथ ही सऊदी अरब में अब महिलाएं अकेले विदे’श यात्रा, विवाह का पंजीकरण जैसे कई अधिकारों का लाभ भी उठा सकती हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *