राजद नेता के दावे से जदयू ख़ेमे में ह’ड़कंप,’17 जदयू विधायक राजद ज्वाइन करेंगे’

December 30, 2020 by No Comments

बिहार में राजनीतिक गहमागहमी तेज़ है. पिछले कुछ दिनों से जदयू-भाजपा में सब ठीक नहीं है और इसका फ़ायदा उठाने के लिए विपक्ष पूरी तरह सक्रिय है. NDA बिहार में बेहद कमज़ोर नज़र आ रहा है और उसे हर रोज़ एक नई मुश्किल का सामना करना पड़ रहा है. अब राजद नेता के दावे ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को परेशान कर दिया है. राजद के बड़े नेता श्याम रजक ने दावा किया है कि 17 जदयू विधायक उनके साथ हैं और कभी-कभी राजद ज्वाइन कर सकते हैं.

श्याम रजक ने दावा किया कि बीजेपी की कार्यशैली से नाराज जेडीयू के विधायक बिहार की एनडीए सरकार को गिराना चाहते हैं. वहीं जदयू के वरिष्ठ नेता दावा कर रहे हैं कि ये सब भ्रम फैलाने के लिए है और सरकार पूरे पाँच साल चलेगी. रजक अपने दावे में कहते हैं कि अगर जेडीयू के 25 से 26 विधायक पार्टी छोड़कर आरजेडी में शामिल होंगे तो दल-बदल कानून के तहत उनकी सदस्यता पर आंच नहीं आएगी. श्याम रजक ने कहा कि पूरे घटनाक्रम पर उनकी नजर है और वे कुछ और जेडीयू विधायकों के पार्टी छोड़कर आरजेडी में शामिल होने के इंतज़ार में हैं.

उन्होंने दावा किया कि जल्द ही जदयू के और भी विधायक पार्टी छोड़कर राजद में शामिल होंगे. अरुणाचल प्रदेश जदयू के 6 विधायकों को भाजपा ने अपनी पार्टी में जबसे शामिल किया है तब से ही बवाल की स्थिति है. अरुणाचल प्रदेश की घटना को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में राजद नेता ने दावा किया कि अरुणाचल प्रदेश में जिस तरह से जदयू के 6 विधायकों को भाजपा ने अपनी पार्टी में शामिल किया है उससे तो ये साफ हो गया है कि भाजपा नीतीश कुमार पर हावी हो गई है। इसी कारण से जदयू के विधायक पार्टी छोड़ना चाहते हैं।

वहीं जदयू नेता और प्रवक्ता राजीव रंजन ने श्याम रजक के दावों पर कहा कि वह भ्रामक बयान देकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रहे हैं। जनता दल यूनाइटेड पूरी तरीके से एकजुट है और बीजेपी के साथ मिलकर बिहार में कार्यकाल पूरा करेगी और 5 साल सरकार चलाएगी। राजीव रंजन ने कहा कि जेडीयू में कहीं कोई असंतोष नहीं है। अरुणाचल की घटना से पार्टी आहत जरूर है मगर पार्टी के विधायक किसी के झांसे में नहीं आने जा रहे हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *