राजस्थान के सियासी ड्रा’मे ने लिया नया मो’ड़, प्रियंका की कॉल के बाद ही कर दी गई..

July 17, 2020 by No Comments

राजस्थान: राजस्थान का सियासी घमा’सान तेज़ी से बढ़ता ही जा रहा है। कांग्रेस पार्टी ने बा’गी ते’वर दिखाने वाले सचिन पायलट को राजस्थान के उपमुख्‍यमंत्री और राज्‍य के पार्टी अध्‍यक्ष पद से ह’टा दिया था। कांग्रेस की महा सचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ तीन घंटे की बातचीत के बाद सचिन पायलट को पद से बेदखल कर दिया गया। दरअसल, सचिन पायलट से राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खि’लाफ बा’गी तेवर दिखाए थे, जिसके बाद सचिन पायलट और उनके खेमे के 19 विधायकों के खि’लाफ नोटिस जारी किया गया था। वहीं बुधवा’र को सचिन पायलट की प्रियंका गांधी से बातचीत के बाद उन्हें पद से ह’टा दिया गया।

सीएम अशोक गहलोत के खि’लाफ बगा’वत करने के बाद सचिन पायलट तक पहुंचने के लिए गांधी परिवार की यह एक कोशिश थी, लेकिन इतनी कोशिशों के बावजूद भी वह लोग सचिन पायलट के पद को नहीं बचा पाए। पायलट के करीबी सूत्रों की मानें तो उनके मुताबिक पायलट ने इस मसले में दो दिन पहले प्रियंका गांधी से बातचीत की थी। इस बातचीत के दौरान सचिन पायलट ने प्रियंका के सामने अपनी सारी शिकायतें रखीं। जिसके बाद प्रियंका गांधी ने कहा कि “वह राहुल गांधी और सोनिया गांधी से बात करेंगी।”

Sachin Pilot


सूत्रों ने बताया कि, पायलट ने साफ तौर पर कह दिया कि “जब मेरे खि’लाफ कार्रवाई हो रही है तो कांग्रेस कैसे तालमेल/सुलह की बात कर सकती है?” सूत्रों ने आगे कहा कि पायलट ने कहा था कि “एक तरफ कांग्रेस ‘दरवाजे खुले’ होने की बात करती है और दूसरी तरफ मुझे बर्खास्त कर दिया जाता है और अयोग्यता नोटिस भेजा जाता है। अशोक गहलोत की ओर से मुझ पर निशा’ना सा’धा गया।” बता दें कि पायलट और अन्य विधायकों के खि’लाफ नोटिस जारी करने के मामले में यह लोग पार्टी को आदालत तक लेकर गए हैं। सूत्रों ने इस संबंध में बताया कि “मैं गहलोत के घर पर विधायकों की मीटिंग में कैसे भाग ले सकता हूं जब मुझे दरकिनार किया जा रहा है।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *