बाइक पर बैठ कर प्रियंका गांधी ने पुलिस की करा दी प’रेड,’मेरे गले पर हाथ लगाया..’

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी में शनिवार के रोज़ सियासी पारा अचानक ही ऊपर चला गया. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी एसआर दारापुरी के परिवार से मिलने जा रहीं थीं लेकिन तभी पुलिस ने उन्हें रोका और जमकर बहस हुई. इस पर अब प्रियंका गांधी ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने कहा,”मैं दारापुरी जी की फॅमिली से मिलने जा रही थी..पुलिस ने बार-बार रोका..जब गाड़ी को रोका औ र्मैने पैदल जाने की कोशिश की तो मुझे घेर के रोका और मेरे गले पर हाथ लगाया..मुझे गिरा भी दिया एक बार.”

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी आज पूर्व पुलिस अधिकारी एसआर दारापुरी के घर वालों से मिलने के लिए पहुँचीं. प्रियंका गांधी ने दारापुरी के घर पहुँचने के लिए दो पहिया वाहन का भी सहारा लिया. दारापुरी को उत्तर प्रदेश की पुलिस ने CAA प्रोटेस्ट को लेकर हिरासत में लिया हुआ है.परन्तु पारा तो तभी तेज़ हो गया जब प्रियंका को जाने से रोका गया.असल में कांग्रेस नेत्री प्रियंका गांधी दारापुरी के परिजनों से मिलने जा ही रहीं थीं कि अचानक ही पुलिस ने उन्हें रोक दिया.


इसके बाद वो कार से उतरीं तो पुलिस ने उनके साथ धक्का-मुक्की भी की. हालाँकि पुलिस ने इसे सही नहीं बताया लेकिन विडियो फुटेज में सब क़ैद हो गया है. उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार की पुलिस पर लगातार ये आरोप लग रहे हैं कि वो CAA के ख़िलाफ़ हो रहे प्रदर्शनों का दमन करने के लिए कुछ भी कर रही है. पुलिस पर यहाँ तक आरोप लगे हैं कि वो लोगों के घरों में घुसकर लोगों को पीट रही है.

कई ऐसे विडियो वायरल हुए हैं जिसमें पुलिस आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल कर रही है और कई लोग इस हिंसा में अब तक जान गँ’वा चुके हैं. प्रियंका गांधी आज दारापुरी के परिजनों से इसीलिए मिलने जा रहीं थीं कि उन्हें राजनीतिक स्थिति का अंदाज़ा मिले तभी पुलिस ने उन्हें पहले रोकने की कोशिश की.कांग्रेस पार्टी की ओर से बताया गया कि प्रियंका 8 किलोमीटर पैदल चलकर दारापुरी के परिजनों से मिलीं. इस घटना के बाद प्रदेश की राजनीति गर्मा गई. नेता के आठ किलोमीटर दूर तक पैदल चलने से कांग्रेस में नया जोश देखने को मिल रहा है.

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.