नई दिल्ली: नागरिकता संशोधन क़ानून और NRC के ख़ि’लाफ़ चल रहे आन्दोलन के बीच महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाक़ात की. इस मुलाक़ात के बाद ठाकरे ने संवाददाताओं से बात करते हुए बताया कि उन्हें प्रधानमंत्री ने ये आश्वासन दिया है कि पूरे देश में NRC लागू नहीं होगा. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने आशवस्त किया है कि वह पूरे देश में NRC को लोगू नहीं करेंगे. इस प्रेस वार्ता के समय उनके साथ आदित्य ठाकरे और संजय राउत भी मौजूद थे.

उद्दव ठाकरे ने कहा कि हमनें यह समझ लिया है कि CAA, NRC और NPR की भूमिका क्या है. ठाकरे ने CAA का समर्थन किया और कहा कि CAA को लेकर किसी को ड’रने की ज़रूरत नहीं है. जो लोग CAA के ख़ि’लाफ़ लोगों को भ’ड़का रहे हैं, उन्हें समझने की ज़रूरत है. उद्धव ठाकरे ने एनपीआर के सम्बन्ध में भी बयान दिया है. उन्होंने कहा कि एनपीआर का सम्बन्ध जनसंख्या से है.

उन्होंने कहा कि ऐसा कहा जा रहा है कि एनआरसी मुसलमानों के लिए ख़तरा है, इसके जरिए देश से मुसलमानों को बाहर निकाला जाएगा लेकिन ऐसा नहीं है, अगर कोई विवाद होता है तो देखेंगे कि क्या करना है. उल्लेखनीय है कि NRC को लेकर पूरे देश में ग़ु’स्सा है और लगभग हर शहर में इसके ख़ि’लाफ़ प्रदर्शन हो रहे हैं. केंद्र सरकार इस पूरे मामले में बैकफ़ुट पर नज़र आ रही है और अब कह रही है NRC को लेकर कोई बात हुई ही नहीं है.

प्रेस वार्ता में ठाकरे ने ये भी बताया कि पीएम मोदी के जीएसटी की राशि को लेकर चर्चा की. उन्होंने कहा कि जीएसटी की राशि राज्यों को जिस गति से मिलनी चाहिए वह नहीं मिल रही है. इस विषय के साथ विमर्श हुआ, इसके अलावा उन्होंने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना का पैसा किसानों को नहीं मिलने की बात पीएम मोदी से की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *