नई दिल्ली: मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के दौरान पहला कैबिनेट विस्तार होने जा रहा है। जिसके लिए बुधवार को शाम 5 बजे पीएम मोदी के आवास पर बैठक होनी थी। लेकिन यह बैठक र’द्द कर दी गई। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, यह कैबिनेट विस्तार गुरुवार को सुबह 10.30 बजे होगा। इन कैबिनेट विस्तार को एक बड़ा फेरबदल माना है रहा है। कैबिनेट में 20 नए चेहरों को जगह मिलने के अनुमान लगाए जा रहे हैं। दूसरी तरफ मौजूदा कैबिनेट में से कुछ लोगों को बाहर निकाला जा सकता है।

मोदी कैबिनेट के विस्तार में पश्चिम बंगाल, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश के नेताओं को मंत्रिपद दिया जा सकता है। वहीं, बिहार में जनता दल (यूनाइटेड) के कुछ नेताओं को कैबिनेट में जगह दी जा सकती है। इसके अलावा लोक जनशक्ति पार्टी के पशुपति कुमार पारस गुट को केंद्रीय कैबिनेट में जगह मिलने के अनुमान भी लगाए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश में 2022 में विधानसभा चुनाव होने वाले है।

इसलिए उत्तर प्रदेश पर ज़्यादा फोकस किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में बीजेपी के सहयोगी अपना दल और निषाद पार्टी को केंद्रीय कैबिनेट में जगह मिल सकती है। हाल ही में अपना दल(एस) की प्रमुख अनुप्रिया पटेल ने बीजेपी के शीर्ष नेताओं से दिल्ली में मुलाकात भी की थी। कांग्रेस छोड़कर बिजेपी का हाथ थामने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया को मंगलवार को दिल्ली बुलाया गया है। उन्हें भी पीएम मोदी की कैबिनेट में जगह मिल सकती है। वहीं असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल को भी मंत्रिपद दिया जा सकता है। सोनोवाल भी बीते दिनों दिल्ली पहुंचे थे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *