PM मोदी की कैबिनेट में शामिल हो सकते हैं सिंधिया, आख़िरकार हो जाएगी माँग पूरी!

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्रीय मंत्रिपरिषद में फे’रबदल और विस्तार करने की अ’टकलें लगाई जा रही हैं। संसद का मानसून सत्र 19 जुलाई से शुरू हो सकता है। फिलहाल अभी इसकी आधिकारिक रूप से घोषणा नही की गई। खबरें हैं कि, संसद का मानसून सत्र शुरू होने से पहले ही पीएम मोदी की कैबिनेट में विस्तार हो सकता है। कैबिनेट विस्तार में दो नाम सबसे चर्चा में है जिन्हें कैबिनेट के अंदर जगह मिल सकती है।

दूसरी तरफ उत्तर प्रदेश में आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर दिल्ली में बीजेपी की बैठकों का दौर भी जारी है। जिसमें बीजेपी अपने संगठन को मज़बूत करने की तैयारियों में जुटी है। कैबिनेट विस्तार में जिन दो नेताओ की चर्चा सबसे ज़्यादा हो रही है। उसमें सबसे पहला नाम है असम के पूर्व मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल का और दूसरा नाम है कांग्रेस से बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया का।

बता दें कि, सर्बानंद सोनोवाल असम के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। 2021 में असम विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी ने दुबारा राज्य में अपना परचम लहराया। जिसके बाद मुख्यमंत्री पद बिजेपी के आलाकमानों ने हेमन्त बिस्व शर्मा को दिया। एक सूत्र ने कहा कि सोनोवाल में असम में ” सफलतापूर्वक पांच साल सरकार चलाई और पार्टी को दोबारा सत्ता में लाने में मदद की इसलिए इस बात की संभावना है कि उन्हें उचित स्थान दिया जा सकता है।”

इन्ही अटकलों के बीच बीते दिनों सर्बानंद सोनोवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह से मिलने दिल्ली पहुंचे थे। सर्बानंद सोनोवाल को राज्यसभा के जरिए केंद्र में लाया जा सकता है। दूसरी ओर, कांग्रेस को छो’ड़कर बीजेपी में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया जब से बीजेपी में आएं हैं तभी से ही उन्हें केंद्र में मंत्री पद की ज़िम्मेदारी दिए जाने का बीजेपी सोच रही थी। बिहार में जदयू खेमे की तरफ से भी कुछ नेताओं को मोदी कैबिनेट में जगह दी जा सकती है।

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.