नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की केंद्रीय मंत्रिपरिषद में फे’रबदल और विस्तार करने की अ’टकलें लगाई जा रही हैं। ऐसी खबरें हैं कि पीएम मोदी के केंद्रीय मंत्रिमंडल में सर्बानंद सोनोवाल को स्थान मिल सकता है। सर्बानंद सोनोवाल असम के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। 2021 में असम विधानसभा चुनाव के बाद बीजेपी ने दुबारा राज्य में अपना परचम लहराया। जिसके बाद मुख्यमंत्री पद बिजेपी के आलाकमानों ने हेमन्त बिस्व शर्मा को दिया। एक सूत्र ने कहा कि सोनोवाल में असम में “सफलतापूर्वक पांच साल सरकार चलाई और पार्टी को दोबारा सत्ता में लाने में मदद की इसलिए इस बात की संभावना है कि उन्हें उचित स्थान दिया जा सकता है।”

इन्ही अटकलों के बीच शुक्रवार को सर्बानंद सोनोवाल बीजेपी के शीर्ष नेताओं से मुलाकात करने दिल्ली पहुंचे। बता दें कि, सोनोवाल मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में 2014 से 2016 तक खेल एवं युवा मामलों के राज्य मंत्री के तौर पर काम संभाला। बीजेपी ने असम के अंदर 2016 में विधानसभा चुनाव में अपनी ऐतिहासिक जीत दर्ज की थी। जिसके बाद सर्बानंद सोनोवाल को असम के मुख्यमंत्री बनाया गया था। सोनोवाल ने असम में 5 साल सफलता पूर्वक सरकार चलाई।

2021 असम विधानसभा चु’नाव में बीजेपी ने दुबारा राज्य में सरकार बनाई। लेकिन इस बार बीजेपी के प्रमुख नेताओं ने हेमन्त बिस्व शर्मा को असम के नए मुख्यमंत्री के रूप में चुना। गुरुवार को दिल्ली पहुंचने से पहले सोनोवाल ने असम के राज्यपाल जगदीश मुखी की ओर से राजभवन में आयोजित एक समारोह में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की। इन समारोह में असम के मुख्यमंत्री सरमा भी मौजूद थे। हाल ही में जब हेमंत बिस्व शर्मा ने सीएम पद की शपथ ली थी। तब पीएम मोदी ने एक ट्वीट में सर्बानंद सोनोवाल की तारीफ़ की थी। उन्होंने कहा था, “मेरे अमूल्य सहयोगी सर्वानंद सोनोवाल जी ने पिछले पांच सालों में विकासपरक और जनहित में शासन किया. असम की प्रगति और राज्य में पार्टी को मजबूत करने में उनकी भूमिका अहम है”।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *