लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष शरद पवार ने भाजपा नेतृत्व वाली केंद्र सरकार पर भे’दभाव का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान् श्री राम के मंदि’र के लिए श्रीराम भूमि ट्रस्ट गठित किया गया है, इसी आधार पर म’स्जिद के लिए भी ट्रस्ट बनाया जाना चाहिए था. उन्होंने सवाल उठाया कि अगर मं’दिर के लिए ट्रस्ट बन सकता है तो मस्जि’द के लिए क्यों नहीं? देश तो सबका है और सभी के लिए है.

NCP चीफ शरद पवार ने कहा कि अयोध्या में बाबरी मस्जि’द को गिरा’या गया था. पवार ने कहा कि सरकार म’स्जिद बनाने के लिए भी ट्रस्ट बनाए और मदद मुहैया कराए. बता दें कि एनसीपी अध्यक्ष अपनी पार्टी के राज्य प्रतिनिधि सम्मेलन में शामिल होने के लिए 19 फरवरी को लखनऊ में थे.पवार ने राज्य की योगी आदित्यनाथ सरकार पर भी चुटकी ली है. उन्होंने कहा,”इस बजट में किसानों के लिए कुछ नहीं है, जबकि बेरोज़गारों को मासिक प्रशिक्षण भत्ता देने का प्रावधान किया गया है. यह कब मिलेगा, कहना मुश्किल है.”

उन्होंने कहा कि आजकल के युवाओं को काम करने का अधिकार चाहिए, इस तरह के भत्तों से कुछ हासिल न होगा. पवार ने उत्तर प्रदेश से महाराष्ट्र की ओर हो रहे पलायन पर भी टिपण्णी की. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के युवा रोज़गार की तलाश में महाराष्ट्र और अन्य राज्यों में जाते हैं. शरद पवार ने दावा किया कि बीजेपी सरकार की नीतियों से आम जनता त्रस्त है, इसीलिए इन्हें सत्ता से बेदखल कर रही है.

दिल्ली विधानसभा चुनाव में प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और कई राज्यों के मुख्यमंत्री प्रचार करने गए, लेकिन जनता ने अरविंद केजरीवाल को प्रचंड बहुमत से जीत दिलाई. पवार ने कहा कि उत्तर प्रदेश में भी विपक्ष को एकजुट होकर काम करना चाहिए. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में एनसीपी, शिवसेना और कांग्रेस गठबंधन की सरकार बेहतर ढंग से काम कर रही है. पवार ने सीएए और एनआरसी को भी ग़’लत बताया. उन्होंने कहा कि इसमें मुस्लिम अल्पसंख्यकों को पूरी तरह नजरअंदाज किया गया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *