पहले नोटिस पर नहीं पहुँचे अर्नब गोस्वामी, मुंबई पुलिस ने भेजा दूसरा नोटिस तो फ़ौ’रन..

April 27, 2020 by No Comments

मुंबई: पिछले कुछ वर्षों में पत्रकारिता का स्तर बहुत गिरा है. पहले एक दौर था जब टीवी पर लोग डिबेट का इंतज़ार करते थे और कई अच्छी बातें उन डिबेट्स से सीखी जा सकती थीं लेकिन आज के दौर में टीवी पर डिबेट के नाम पर महज़ तमाशा होता है. चीख़-पुकार मचाने वाले एंकर ऐसा लगता है जैसे दीवार ही गिरा देंगे. एक पक्ष की बात को बार बार कहना और दूसरे पक्ष से सवाल करके उसको जवाब भी न देने देना.

ये सब चल रहा है लेकिन इसी बीच वरिष्ठ नेताओं पर आप’त्तिजनक टिपण्णी का भी दौर चल निकला है. कुछ एंकर्स तो यूँ है कि जिनकी कोई बहस ऐसी नहीं होती जिसमें वो धार्मिक द्वेष न फैलाएँ. कुल मिलाकर आज एंकरिंग के नाम पर महज़ तमाशा हो रहा है और इस तमाशे में जिसको बड़ा हीरो माना जाता है उनमें रिपब्लिक टीवी के एंकर अर्नब गोस्वामी का नाम भी शामिल होता है. अर्नब के बारे में लोगों का कहना है कि वो अपने शो को एक जंग का मैदान बना देते हैं और कुछ इस तरह से बर्ताव करते हैं जैसे किसी पुलिसिया पूछताछ में भी न होता होगा.

अपने चैनल पर इसी तरह जब अर्नब गोस्वामी पालघर में हुई दो साधुओं और उनके एक ड्राईवर की माब लिंचिंग पर डिबेट प्रोग्राम कर रहे थे तभी वो आपे से बाहर हो गए और अचानक ही कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी पर आ’पत्तिजनक टिपण्णी कर बैठे. गोस्वामी ने बिना किसी आधार के सोनिया गांधी को ही परत्यक्ष रूप से साधुओं का ह’त्यारा बता दिया. उन्होंने यहाँ तक कह दिया कि सोनिया इटली फ़ोन करके बड़े ख़ुश होकर कहती होंगी कि मैंने यहाँ एक राज्य में सरकार बना ली है और अब मैं हिन्दू साधुओं की ह’त्या करवा रही हूँ.


उनके इस बयान पर देश भर में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने तो विरोध किया ही, सभ्य समाज के लोगों ने भी इस हरकत की निंदा की. इसके साथ ही कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने देश भर में कई जगह अर्नब के ख़िलाफ़ FIR कराई लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने इन सभी FIR को रद्द करके मुंबई की एक FIR को रहने दिया चूंकि सभी एक ही मामले को लेकर थे. आज इसी मामले में अर्नब को मुंबई पुलिस ने बुलाया था. मुंबई के एनएम जोशी मार्ग अर्नब पहुँचे तो उनसे पुलिस ने पूछताछ की. पूछताछ के दौरान उनके वकील भी वहाँ मौजूद थे.

अर्नब को पुलिस ने दो नोटिस भेजे हैं उसके बाद वो मुंबई पुलिस की जाँच में सहयोग करने लगे. अर्नब ने इसको लेकर बयान जारी किया कि उन्हें 12 घंटे के अन्दर ही दो नोटिस भेज दिए गए लेकिन पुलिस से जुड़े सूत्रों का कहना है कि पहले नोटिस पर गोस्वामी की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं मिली जिसके बाद दूसरा नोटिस भेजा गया. सोनिया पर टिपण्णी के बाद उनकी कार पर कुछ लोगों ने पेन की स्याही फेंक कर हम’ला भी किया था. उनके साथ उनकी बीवी भी मौजूद थीं, उन्होंने इसको लेकर पुलिस में शिकायत दर्ज करायी थी. इस हम’ले में उन्हें और उनकी पत्नी को किसी प्रकार का कोई नुक़सान नहीं हुआ था, कार पर भी किसी प्रकार की चोट नहीं आयी थी. इसको लेकर अर्नब ने कहा कि पुलिस को इस हम’ले की जाँच में तेज़ी दिखानी चाहिए.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *