ओवैसी के मान की हानि का मामला: दिग्विजय सिंह की बढ़ी मुश्किल, ग़ैर-ज़मानती वारंट जारी..

February 23, 2021 by No Comments

हैदराबाद: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह अपने बयानों की वजह से अक्सर चर्चा में रहते हैं. वो गाहे-बगाहे ऐसे बयान देते रहते हैं जिसके बाद कुछ न कुछ ख़बर उनके बारे में चलने लगती है. कई बार वो अपने बयानों की वजह से आलोचना का शिकार भी हो जाते हैं. कुछ इसी तरह का मामला एक बार फिर देखने को मिल रहा है. दिग्विजय सिंह के ख़िलाफ़ मानहानि के एक मामले में ग़ैर-ज़मानती वारंट जारी हुआ है.

ये वारंट इसलिए जारी हुआ है क्यूँकि वो कोर्ट के समक्ष पेश नहीं हुए हैं. ये मामला 2017 का है. विशेष अदालत ने उनके ख़िलाफ़ ये वारंट जारी किया है. आपको बता दें कि दिग्विजय सिंह के ख़िलाफ़ ये मामला आल इंडिया मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन के नेता एसए हुसैन ने दायर किया था. हुसैन ने आरोप लगाया था कि सिंह ने यह कहकर AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की मानहानि की कि हैदराबाद के सांसद की पार्टी वित्तीय लाभों के लिये दूसरे राज्यों में चुनाव ल’ड़ रही है।

याचिकाकर्ता के वकील, मुहम्मद आसिफ़ अमजद ने इस सिलसिले में कहा कि उन्होंने दिग्विजय सिंह और लेख प्रकाशित करने वाले एक उर्दू दैनिक के संपादक दोनों को कानूनी नोटिस भेजे थे और माफ़ी मांगने को कहा था लेकिन उन दोनों ने जवाब नहीं दिया जिसके बाद उन्होंने अदालत का रुख़ किया। जब पिछली तारीख़ को सुनवाई हुई थी तो अदालत ने निर्देश दिया था कि दिग्विजय सिंह और एडिटर 22 फ़रवरी को अदालत के सामने पेश हों. अमजद ने बताया कि संपादक ने ऐसा किया, लेकिन दिग्विजय सिंह अदालत में पेश नहीं हुए।

अमजद ने कहा कि दिग्विजय सिंह के वकील की ओर से याचिका दायर करके मेडिकल कारण की वजह से उन्हें छूट दिए जाने की माँग की थी लेकिन अदालत ने इसे ख़ारिज कर दिया. अदालत ने मामले की अगली सुनवाई आठ मार्च को तय की है। सिंह के वकील ने कहा कि उन्होंने कार्यवाही को रद्द करने के लिए उच्च न्यायालय के समक्ष पहले ही रोक को बढ़ाने के लिये याचिका दायर कर दी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *