ओवैसी और कांग्रेस में फिर छि’ड़ी “जं’ग”, ‘दो बीवियों की टिप’ण्णी करना…’

भारत राजनीति

हैदराबाद: आल इंडिया मजलिस ए इतिहादुल मुस्लि’मीन और कांग्रेस में छत्तीस का आंकड़ा रहता है. हैदराबाद में कांग्रेस ने ओवैसी को ह’राने की बहुत कोशिश की लेकिन कभी भी उसे का’मयाबी नहीं मिल सकी. लम्बे समय से हैदराबाद शहर की सि’यासत पर ओवैसी परिवार का क़’ब्ज़ा रहा है. अब ओवैसी अपनी पार्टी का विस्तार पूरे भारत में करने की कोशिश में लगे हैं. उन्हें मुस्लि’म कम्युनिटी में देश के अलग अलग हिस्सों में सम’र्थन मिल भी रहा है.

कांग्रेस मानती है कि भाजपा के आगे जाने में ओवैसी की पार्टी का बड़ा रोल है जबकि ओवै’सी भी यही कहते हैं. AIMIM अध्यक्ष असदउद्दीन ओवैसी कहते हैं कि कांग्रेस और भाजपा एक ही हैं. अब एक ऐसी ख़बर आयी जिसके बाद कहा जा रहा है कि असदउद्दीन ओवै’सी की दो बीवियां हैं. AIMIM ने दावा किया कि ये अ’फ़वाह कांग्रेस फैला रही है.

AIMIM अध्यक्ष असदउद्दीन ओवैसी ने इस बारे में अपनी प्रति’क्रिया दी है. हैदराबाद के सांसद ने उन अफ’वाहों पर प्रतिक्रिया दी, जो क’थित रूप से कांग्रेस द्वारा फैला’ई जा रही हैं। कामारेड्डी में एक जनसभा को संबोधित करते हुए, ओवैसी ने कांग्रेस को अ’फवाह फैलाने के लिए फ’टकार लगाई कि उसकी दो पत्नियां हैं. यह उल्लेख किया जा सकता है कि कामारेड्डी में, एआईएमआईएम उम्मीदवार नगर निगम चुनावों में छह सीटों के लिए चुनाव ल’ड़ रहे हैं, जो कुछ दिनों में होने की संभा’वना है।

कांग्रेस को याद दिलाते हुए कि संसदीय चुनावों में, राहुल गांधी अमेठी सीट हा’र गए, ओवैसी ने सवा’ल किया, ‘क्या उन्होंने मेरी वजह से ऐसा किया है?’ यह ध्यान दिया जा सकता है कि एक लोक’प्रिय दा’वा है कि AIMIM बीजेपी की बी-टीम है और यह अप्रत्यक्ष रूप से चुनाव जीतने में भगवा पार्टी की मदद करती है।शनिवार को ओवैसी ने घोषणा की कि उनकी पार्टी 2023 के विधानसभा चुनाव में निजामाबाद और बोधन निर्वाचन क्षेत्रों से चुनाव लड़ सकती है। उन्होंने आरोप लगाया कि 17 वें संसदीय चुनाव में निजामाबाद से भाजपा की जीत के लिए टीआरएस जिम्मेदार है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *