NDA के पुराने सहयोगी ने किसान बिल को लेकर सं’घर्ष किया तेज़, हिरासत में ली गईं..

October 1, 2020 by No Comments

चंडीगढ़: कृषि बिलों को लेकर पंजाब में बड़े स्तर पर प्रद’र्शन हो रहे हैं. पंजाब के अ’लावा दूसरे राज्यों में भी किसान संगठन और राजनीतिक दल प्र’दर्शन कर रहे हैं. NDA सरकार से इ’स्तीफ़ा देने वालीं पूर्व केंद्रीय मंत्री और शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल को गुरुवार के रोज़ चं’डीगढ़ प्रवेश से पहले हिरा’सत में ले लिया गया. अकाली दल पहले ही NDA सरकार से अलग हो चुका है.

कौर ने घटनाक्रम पर ट्वीट करते हुए लिखा,”किसानों की आवाज़ उठाने के लिए गिरफ्ता’र, लेकिन वो हमें चु’प नहीं कर पाएंगे.” अकाली नेता ने आगे लिखा, “हमें किसानों के अधिकारों के लिए बोलने के लिए गि’रफ्तार किया जा रहा है, लेकिन हम सच्चाई का अनुस’रण कर रहे हैं और इस ब’ल से हमारा बल ख़ामोश नहीं होगा.”


तस्वीरें सोशल मीडिया पर वाय’रल हो गई हैं जिनमें अकाली नेता लोगों से घिरी दिख रही हैं लेकिन सभी ने मास्क पहना हुआ है. अकाली दल के नेता और समर्थक उनका बचाव करने की कोशिश करते दिख रहे हैं. अकाली दल ने आज सुबह नए कृषि बिलों के खिलाफ तीन अलग-अलग “किसान मार्च” शुरू किए, उनका कहना हैं कि ये बिल किसानों के हित को नुकसान पहुंचाएगा और बड़ी कंपनियों को हेरफेर करने के लिए जगह देगा. अकाली दल के प्रमुख सुखबीर सिंह बादल अमृतसर से एक मार्च का नेतृत्व किया, जबकि हरसिमरत कौर बादल बठिंडा से आई हैं.

तीसरा जुलूस अकाली दल के नेताओं प्रेम सिंह चंदूमाजरा और दलजीत सिंह चीमा के नेतृत्व में आनंदपुर साहिब से शुरू हुआ था. तीनों समूहों को चंडीगढ़ में मिलना था. जहां उन्होंने पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनोर को कृषि कानूनों के खिलाफ एक ज्ञापन देने की योजना बनाई थी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *