लखनऊ: समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आज़म ख़ान के ऊपर पिछले कुछ महीनों में कई मुक़दमे दर्ज हुए हैं. इसको लेकर सपा में नाराज़गी देखी गई है. सपा मानती है कि भाजपा सरकार बदले की नीयत से कार्यवाई कर रही है. समाजवादी पार्टी पूरी तरह से आज़म ख़ान के साथ खड़ी दिख रही है और अब इसको लेकर सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का बया’न भी आया है.

सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव ने आज एक प्रेस वार्ता की और आज़म ख़ान का खुलकर बचाव किया. मुलायम ने मंगलवार को कहा कि आज़म पर ग़लत तरह से केस दर्ज किए गए हैं. उन्होंने कहा कि आज़म के ऊपर लगे सभी आरोप ग़लत और बेबुनियाद हैं. मुलायम ने कहा कि आज़म ने लगातार ग़रीबों की लड़ाई लड़ी है और चंदे के पैसे जमा करके यूनिवर्सिटी बनाई है. इस यूनिवर्सिटी में देश और विदेश के छात्र पढ़ते हैं.

मुलायम ने कहा कि हम इस कार्रवाई के खिलाफ पूरे प्रदेश में आंदोलन चलाएंगे. मुलायम सिंह यादव ने कहा कि आजम के बारे में सब जानते हैं. वो एक ग़रीब परिवार से आए. किसी से पैसा नहीं लिया. कोई ग़लत काम नहीं किया. सब पत्रकार मित्र आज़म के बारे में सारा सच जानते हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी के भी कुछ नेता कह रहे हैं कि यह सही नहीं हो रहा है और इससे हमारी पार्टी को नुक़सान होगा.

मुलायम ने लखनऊ में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि इस मामले में अगर ज़रूरत पड़ी तो वो प्रधानमंत्री से भी मिलेंगे लेकिन अभी इस पर कुछ भी कहना जल्दबाज़ी होगा. मुलायम ने कहा कि आज़म के साथ अन्याय हो रहा है और इसलिए उनके पक्ष में खड़े होने की ज़रूरत है. मुलायम सिंह ने कहा कि आज़म ने चंदा मांगकर और देसी विदेशी मित्रों से चंदा कर यूनिवर्सिटी बनाई. उन्होंने मेहनत से यूनिवर्सिटी बनाई है. अपना विधायकी और सांसदी का फंड यूनिवर्सिटी में लगा दिया.

उन्होंने कहा कि सैकड़ों बीघा जमीन ख़रीदने वाला 1-2 बीघा जमीन के लिए गड़बड़ी नहीं करता है. सिर्फ 1-2 बीघा जमीन के लिए उन पर दर्जनभर मुकदमा किया गया है. उन्होंने कहा कि आज़म के लिए ज़ालिम जैसे शब्दों का इस्तेमाल किया गया.. हम आज़म के पक्ष में रहेंगे और कार्यकर्ताओं से अपील है कि आज़म के ख़िलाफ़ हो रही साज़िश के ख़िलाफ़ खड़े हों और आन्दोलन करें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *