हाल ही में भारत के राष्ट्रीय सुर’क्षा सला’हकार अजीत डोभाल सऊदी अरब की 2 दिन की यात्रा पर पहुँचे। जहाँ उन्होंने वली अ’हद (क्रॉउन प्रिंस) मो’हम्मद बि’न सल’मान से मुलाक़ात की और इस लम्बी मुलाक़ात में कई ज़रूरी मुद्दों पर बात हुई। सूत्रों की माने तो इस मुलाक़ात में मुख्य रूप से सऊदी अरब के तेल प्रतिष्ठानों पर हुए मिसा’इल तथा ड्रो’न हम’लो के बारे में बातें हुईं हाल ही में 14 सितम्बर को ये हम’ला हुआ था। इसके साथ ही क श्मीर से अनु च्छेद 370 ह’टाने, भारत पा’किस्तान तना’व के विषय भी बातचीत का अहम पहलू रहे। वहीं पा’किस्ता न की ओर से आ’तंकी गु’टों को मिलने वाले समर्थन पर भी बातें हुईं।

सूत्रों से प्राप्त ख़बरों के अनुसार राष्ट्रीय सुर’क्षा सलाहकार अजीत डोभाल के साथ 2 घंटे तक चली बैठक में सऊदी अरब की ओर से कहा गया है कि सऊदी अरब नई दिल्ली के रू’ख़ से वाक़ि’फ़ है और उसके फ़ैसले को समझते हैं। साथ ही सऊदी अरब ने भारत पा’किस्तान को दोनों देशों के बीच चल रहे त’नाव को कम करने की बात कही है। साथ ही साथ भारत के राष्ट्रीय सुर’क्षा सला’हकार ने सऊदी अरब में मुसैद अ ल ऐबा’न के साथ भी बात की. बता दें कि मुसैद सऊदी अरब के काउंसिल ऑफ पॉलि’टिकल एंड सि’क्योरिटी अफे’यर्स तथा नेशनल साइ’बर सि’क्योरिटी अथॉरिटी के चेयरमैन भी हैं।

Ajit Dobhal

ग़ौरतलब है कि डोभा’ल तथा क्रॉउन प्रिंस सल’मान ने द्विप’क्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर भी चर्चा की। जिसमें सऊदी अरब के तेल प्रतिष्ठानों पर हुए मिसा’इल तथा ड्रो’न हम’लों पर आ’तंक रो’धी सहयोग को ब’

ढ़ावा देने जैसे मुद्दे शामिल हैं। उल्लेखनीय है कि सऊदी अरब भारत के कच्चे तेल का 17 फ़ीसदी से अधिक का स्त्रोत है। साथ ही भारत की एलपीजी ज़रूरतों के 32 फ़ीसदी की आपूर्ति करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *