MLC चुनाव में अखिलेश ने चला दाँव, भाजपा को दी चुनौती..

January 16, 2021 by No Comments

विधान परिषद चुनाव को लेकर पार्टियों में तनातनी शुरू हो गई है. समाजवादी पार्टी के दोनों प्रत्याशियों ने शुक्रवार को अपना नामांकन दाखिल कर दिया. विधान परिषद की 12 सीटों के लिए राजनीतिक रणनीति पूरी तरह से तय हो चुकी हैं. भाजपा 10 विधायक बना सकेगी. वहीं सपा को 1 सीट मिलनी तय है, वहीं अखिलेश यादव ने दो उम्मीदवारों को उतारकर मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है. ऐसे में सवाल उठता है कि परिषद के इस चुनाव में सपा की लड़ाई बीजेपी से होगी या फिर किसी निर्दलीय उम्मीदवार से?

समाजवादी पार्टी ने एमएलसी चुनाव के लिए दो उम्मीदवार अहमद हसन और राजेन्द्र चौधरी को मैदान में उतारा है. जिनमें से अहमद हसन वर्तमान में भी MLC हैं और विधान परिषद में नेता विरोधी दल है. भाजपा ने 12 पर्चे लिए हैं मगर अंदरूनी लोगों के अनुसार पार्टी सिर्फ 10 विधायकों को जीत सकती है. शायद एक निर्दलीय मैदान में आये जिसे पार्टी का बचा हुआ वोट मिले. बता दें कि विधानसभा में अभी 403 विधायक हैं. जीतने के लिए एक तय संख्या के बराबर वोट चाहिए होते हैं.

विधायकों की कुल संख्या को चुनाव होने वाली सीटों की संख्या में एक जोड़कर उससे भाग दे देने पर जो नंबर आता है, उतने वोट जीतने के लिए चाहिए होते हैं. इस तरह 403 को 12+1=13 से भाग देने पर 31 की संख्या आती है. यानी एक उम्मीदवार को जीतने के लिए 31 विधायकों के वोट चाहिए.आपको बता दें कि यूपी विधान परिषद की 12 सीटों पर 28 जनवरी को चुनाव होने हैं. समाजवादी पार्टी ने अहमद हसन और राजेंद्र चौधरी को उतारकर अपने पत्ते खोल दिए हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *