नई दिल्ली: ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड के जनरल सेक्रेटरी मौलाना वली रहमानी (Wali Rahmani) का आज इंतक़ाल हो गया. पिछले एक हफ़्ते से वो बीमार चल रहे थे और उनका इलाज पटना के पारस अस्पताल में चल रहा था. प्राप्त जानकारी के अनुसार उन्होंने कोरोना वैक्सीन भी लगवाई थी. जानकारी के मुताबिक उन्हें सांस लेने में तकलीफ के चलते अस्पताल में दाखिल कराया गया था.

वो शुरू से ही आईसीयू में भर्ती थे. मौलाना वली रहमानी बिहार, उड़ीसा व झारखंड के इमारत-ए-शरिया, अमीर-ए-शरियत के तौर पर भी अपनी जिम्मेदारियां निभा रहे थे. इसके अलावा मौलना रहमानी ने 1974 से 1996 तक बिहार विधानसभा के मेंबर के तौर पर अपनी जिम्मेदारियां निभाई हैं. इस मौके पर ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने अपने ट्विटर हैंडल से जानकारी देते हुए बताया कि महासचिव मौलाना वली रहमानी साहब का देहांत हो गया है. यह पूरे मुस्लिम समाज के लिए एक कभी न पूरा होने वाले नुकसान है. सभी मुसलमानों से दुआ और सब्र की अपील की. हकीकत में हम अल्लाह के हैं और उसी की ओर हम लौटते हैं.


बिहार सरकार में बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन डिपार्टमेंट मे तैनात डॉक्टर अशोक चौधरी ने भी उनके इंतेकाल पर दुख का इज़हार किया है. उन्होंने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट करते हुए कहा,”बिहार, उड़ीसा व झारखंड के इमारत-ए-शरिया, अमीर-ए-शरियत मौलाना सैय्यद मो. वली रहमानी साहब जी के निधन की खबर से स्तब्ध हूं. अक्सर उनका मार्गदर्शन मिलता रहता था, ईश्वर से प्रार्थना करता हूं कि उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे.”

बिहार में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर श्रद्धांजलि दी और लिखा,”इमारत- ए- शरीया के अमीर-ए-शरियत मौलाना वली रहमानी साहब के वफ़ात की ख़बर सुन कर मुझे दिली सदमा हुआ है। आप एक मारूफ मज़हबी अलीम ए दीन थे। ख़ुदा से दुआ करता हूँ की आपको मग़फ़िरत फ़रमा जन्नत में आला मक़ाम दें।आपके घरवालों और चाहनेवालों को इस रंज और ग़म को बर्दाश्त करने की हिम्मत दें।”

By Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.