अहमदाबाद: आम आदमी पार्टी और मोदी सरकार के बीच विवाद अब बढ़ता दिख रहा है. गुजरात चुनाव को लेकर एक तरफ आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक अरविन्द केजरीवाल का दो दिवसीय गुजरात दौरा चल रहा है. दूसरी ओर दिल्ली सरकार और केंद्र सरकार के बीच ज़बरदस्त विवाद हो गया है.

आम आदमी पार्टी के नेता मनीष सिसोदिया ने आरोप लगाया है कि बीजेपी के एक नेता ने उसे पार्टी तोड़ने के लिए एक बड़े ऑफर की पेशकश की है. आप पार्टी सूत्रों का कहना है कि मनीष सिसोदिया के पास आम आदमी पार्टी तोड़ने के एवज में बीजेपी के ऑफर की रिकॉर्डिंग है. “मुझे एक संदेश मिला. इसके दो भाग थे. एक ने कहा कि मेरे खिलाफ सीबीआई और ईडी के सभी मामले बंद हो जाएंगे. दूसरे हिस्से में मुझे आप छोड़कर भाजपा में शामिल होने के लिए कहा.”

उन्होंने कहा कि वे मुझे मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार बनाएंगे क्योंकि दिल्ली में बीजेपी का कोई सीएम उम्मीदवार नहीं है. मेरे खिलाफ सार मामले झूठे हैं. मैं केजरीवाल के साथ हूं क्योंकि मैं ईमानदार हूं. जिसने मुझे संदेश दिया था कहा कि उन्होंने शुभेन्दु अधिकारी, हिमंत बिस्वा सरमा और जयंत पांडा को भाजपा में शामिल करवाया है. इसलिए उन्होंने कहा कि वे उनपर भरोसा कर सकते हैं.”

सिसोदिया ने कहा, “आप मुझे डरा नहीं सकते. मैं मुख्यमंत्री बनने का सपना नहीं देखता, मैं दुनिया के हर बच्चे को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने का सपना देखता हूं. केवल केजरीवाल ही इस वादे को पूरा कर सकते हैं.” अरविन्द केजरीवाल ने उप-मुख्यमंत्री की बात का समर्थन किया और कहा,”जिस आदमी ने हमें गुणवत्तापूर्ण सरकारी स्कूल बनाकर चमत्कार दिखाया, उस पर सीबीआई ने छापा मारा है. क्या आपको शर्म नहीं आती? ऐसे आदमी को भारत रत्न दिया जाना चाहिए. उससे शिक्षा के मुद्दे पर सलाह लेनी चाहिए. जो हुआ उससे देश में हर कोई परेशान है.”

पार्टी सूत्रों ने कहा है कि भाजपा शासित गुजरात में आगामी विधानसभा चुनावों में भाजपा का मुकाबला करने के लिए अपने चुनाव अभियानों में सिसोदिया पर छापेमारी के मुद्दे को जोर-शोर से उठाने की योजना है. पार्टी के सूत्रों ने पहले समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, “सिसोदिया के खिलाफ सीबीआई की कार्रवाई की वजह से जनता की भावनाएं हमारे पक्ष में हैं औऱ हम अपने अभियान के दौरान इस मुद्दे पर आगे बढ़ेंगे क्योंकि उनकी बहुत साफ छवि है.”

केजरीवाल ने ट्वीट में कहा,”सोमवार को मनीष जी और मैं शिक्षा और स्वास्थ्य की गारंटी देने के लिए दो दिनों के लिए गुजरात जाएंगे. दिल्ली की तरह, गुजरात में भी अच्छे स्कूल, अच्छे अस्पताल और मोहल्ला क्लीनिक होंगे. सभी को अच्छी गुणवत्ता वाली शिक्षा और अच्छा स्वास्थ्य उपचार मिलेगा. लोग को राहत मिलेगी, हम युवाओं से भी बातचीत करेंगे, ”

By Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

Leave a Reply

Your email address will not be published.