पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में तृणमूल कांग्रेस के चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के दावे के मुताबिक भाजपा ममता बनर्जी के गढ़ में दहाई का आंकड़ा पार करने में सफल नहीं हो पाई है। प्रशांत किशोर के पिछले एक दशक में सियासी गलियारों में दिखाएं के कई चमत्कार चर्चा में बने रहे हैं।

हाल ही में पश्चिम बंगाल में प्रशांत किशोर द्वारा तृणमूल कांग्रेस के लिए बनाएंगे रणनीति भाजपा को बड़ी शिकस्त देकर गई है। जिसका परिणाम आप सबके सामने आ चुका है। इससे पहले भी प्रशांत किशोर ने कई राजनेताओं के लिए अहम भूमिका निभाई है। प्रशांत किशोर से एक बार एक वरिष्ठ पत्रकार ने जब पूछा कि आपने जिसके साथ भी काम किया है, वह प्रधानमंत्री बन गया।

इसका जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि यह एक सीक्रेट है इसके बाद पत्रकार ने एक और सवाल पूछते हुए कहा कि क्या कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ कोई परेशानी आ रही है ? इसका जवाब देते हुए प्रशांत किशोर ने यह कहा था कि कोई परेशानी नहीं है। कांग्रेस पार्टी को मजबूत होने के लिए क्या करना चाहिए।

इसका जवाब देते हुए प्रशांत किशोर ने कहा था कि कांग्रेस मेरी पार्टी नहीं है। यह कांग्रेस के नेता ही तय करेंगे कि उन्हें क्या करना होगा ? हमें इस बात को भी स्वीकार करने में कोई परेशानी नहीं है कि हम बहुत अच्छे दोस्त हैं। इसके साथ ही कई ऐसे भी मुद्दे हैं जहां एक दूसरे की बात से सहमति नहीं बन पाती है राहुल गांधी के अपने निजी विचार भी हैं।

इसके साथ ही इस दौरान उनसे एक बड़ा सवाल भी लगे हाथ पूछ लिया गया कि क्या राहुल गांधी प्रधानमंत्री मटेरियल हैं? इसका जवाब देते हुए प्रशांत ने कहा कि ये कहने वाला मैं कौन होता हूं।

पत्रकारों की तरह से जब उन पर प्रेशर बनाया गया तो प्रशांत ने हँसते हुए जवाब देते हुए कहा कि ये तो देश की जनता तय करेगी। राहुल को खुद को जनता के सामने साबित करना है। अगर आप कहते हैं कि मैं क्या सोचता हूं तो यही कारण है की मतदान हमेशा गुप्त तरह से करवाया जाता है।
Rahul- Priyanka
इसके साथ ही एक पत्रकार ने पूछा कि क्या प्रियंका गांधी कांग्रेस अध्यक्ष बन सकती है। इसका जवाब देते हुए प्रशांत किशोर ने कहा कि वह बैकग्राउंड में रहकर अच्छा काम करती रही है। और इस बारे में मैं नहीं कांग्रेस पार्टी और प्रियंका गाँधी तय करेंगे।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *