ममता बनर्जी कर रही हैं अमित शाह को उन्हीं के गेम में हराने की तैयारी, भाजपा की योजना पर TMC का..

November 18, 2020 by No Comments

कोलकाता. बिहार विधानसभा चुनाव ख़त्म हो गए हैं और सारा फ़ोकस शिफ्ट हो गया है पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव पर. राज्य में भाजपा अपनी स्थिति मज़बूत करने की कोशिश में है लेकिन तृणमूल कांग्रेस भाजपा को उसके ही गेम में हराने को पूरी तरह से तैयार है. ख़बर है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव को लेकर जबसे भाजपा ने सक्रियता दिखाई है तभी से तृणमूल कांग्रेस ने बाज़ी को कैसे जीतना है इस पर काम करना शुरू कर दिया है.

पिछले कुछ सालों में भाजपा ने राज्य सरकार को घेरने की बहुत कोशिश की है लेकिन विश्लेषक मानते हैं कि ममता बनर्जी अब भी राज्य में सबसे अधिक पॉपुलर हैं. भाजपा के सूत्र बता रहे हैं कि गृह मंत्री अमित शाह अब पश्चिम बंगाल का दौरा चुनाव तक हर माह करेंगे. ममता बनर्जी ने इसकी काट करने के लिए योजना बना ली है. 22 नवंबर से एक के बाद एक वो 600 रैलियां करने जा रही हैं. ये रैलियां ‘Save Bengal from the BJP’ के नारे के साथ की जाएंगी.

ममता ने प्लान बनाया है कि वो ये रैलियाँ सभी 294 सीटों तक लेकर जाएँगी. इस दौरान तृणमूल कांग्रेस सोशल मीडिया से लेकर मुख्य मीडिया तक हर जगह अपनी उपस्थिति दर्ज कराएगी. इस दौरान तृणमूल के समर्थन में पर्चे बांटे जाएंगे, आम लोगों से मुलाकात के कार्यक्रम होंगे और कम्यूनिटी रेडियो के जरिए प्रचार अभियान चलाया जाएगा. रेडियो के जरिए पार्टी विज्ञापन नेपाली,उर्दू, संथाली, तेलुगु, बांग्ला, इंग्लिश, हिंदी जैसी कई भाषाओं में होंगे. पार्टी का लक्ष्य समाज के हर वर्ग का ध्यान अपनी तरफ आकर्षित करने का है.

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में एक समय लेफ़्ट पार्टियों का शासन था लेकिन 2011 के विधानसभा चुनाव में लेफ़्ट की यहाँ बड़ी हार हुई. ममता बनर्जी ने इसके बाद तृणमूल कांग्रेस को राज्य में और मज़बूत किया लेकिन पिछले कुछ सालों में भाजपा यहाँ प्रभावी हो गई है. लेफ़्ट एक तरफ़ अपने को revive करने की कोशिश में है तो तृणमूल कांग्रेस किसी भी तरह से भाजपा को रोकने की बात कर रही है. राज्य में कांग्रेस भी कुछ क्षेत्रों में अपना प्रभाव रखती है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *