मुंबई: महाराष्ट्र में भाजपा जिस तरह से सियासी शतरंज में हारी उसके बाद से पार्टी के अन्दर ही मतभेद उभर कर आ गए हैं. ख़बर है कि पार्टी के कई नेता देवेन्द्र फडनवीस से नाराज़ हैं तो कुछ तो यूँ भी हैं कि केन्द्रीय नेतृत्व से भी ख़ुश नहीं हैं. अजीत पवार के साथ मिलकर सरकार बनाने के फ़ैसले पर भाजपा के कई वरिष्ठ नेता नाराज़ हुए हैं. एक तरफ़ पंकजा मुंडे तो नाराज़ बतायी ही जा रहीं थीं अब ख़बर है कि एकनाथ खडसे भी पार्टी से नाराज़ हैं. उनका मानना है कि पार्टी ने एक झटके वो सब कुछ खो दिया जिसके लिए पार्टी जानी जाती थी.

भारतीय जनता पार्टी के नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री एकनाथ खडसे ने एक बड़ा बयान देते हुए कहा है कि, “जो हमने ज़िंदगी भर कमाया था, पारदर्शिता, भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ हम लड़ते रहे हैं, अजित पवार के साथ हाथ मिलाकर हमारी पार्टी ने एक मिनट में सब गंवा दिया।” बता दें कि बीजेपी ने अजित पवार के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। जो बहुमत साबित करने से पहले ही गिर गई।

इस पर बीजेपी के नेता एकनाथ खडसे का बयान था कि, अजित पवार से हाथ मिलाना बड़ी गलती थी, इससे बचा जा सकता था। उन्होंने कहा कि, मुझे लगता है कि उनके पास बीजेपी के वरिष्ठ नेताओं के निर्देश रहे होंगे, जिसका पालन किया गया। पार्टी ने इसके बारे में सोचने के बाद फ़ैसला किया होगा।बीजेपी नेता एकनाथ खडसे ने कहा कि, मुझे नहीं लगता कि अजीत पवार के बीजेपी के साथ हाथ मिलाने के पीछे शरद पवार की कोई साजिश थी।

लेकिन यह बात भी पूरी तरह से सच है कि, सरकार बनाने के लिए अजीत पवार का समर्थन लेना एक बड़ी ग़लती थी। ग़ौरतलब है कि महाराष्ट्र में अब शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार आकार ले चुकी है। जिसका नेतृत्व मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे कर रहे हैं। और बता दें कि, उद्धव, ठाकरे परिवार से आने वाले पहले मुख्यमंत्री हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *