लता मंगेशकर ने रानू मंडल पर दिया है’रान कर देने वाला बया’न, लोगों ने जवाब में ये…

सोशल मीडिया में विडीओ वा’यरल होने के बाद पश्चिम बंगाल के रानघाट रेलवे स्टेशन पर गाना गाकर पैसे माँ’गने वाली रानू मंडल को हिमेश रेशमिया ने अपनी फ़िल्म में गाने का मौक़ा दिया और एक के बाद एक तीन गानों की रिकॉर्डिंग भी हो गयी। इन रेकॉर्डिंज़ के विडी’ओ हिमेश रेशमिया ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट से फ़ैन्स के लिए शेयर किए थे। रानू मंडल ने कहा था कि वो बचपन से लता मंगेशकर को देखकर और सुनकर सीखती आयी हैं।

वा’यरल हुए विडी’ओ में भी वो लता मंगेशकर का गाना “एक प्यार का नग़्मा है” गाती नज़र आयीं। लोगों ने उनकी आवाज़ की तुल’ना लता मंगेशकर की आवाज़ से की। जब हाल ही में एक इंटर्व्यू के दौरान लता मंगेशकर से रानू मंडल को लेकर सवाल पूछा गया तो उन्होंने चौं’काने वाला ब’यान दिया। लता मंगेशकर ने कहा कि अगर कोई मेरे नाम और काम की वजह से मदद पाकर आगे बढ़ता है तो मुझे इस बात की ख़ुशी है।

Ranu Mandal with Himesh Reshamiya

साथ ही लता मंगेशकर ने कहा कि न’क़ल करने से कोई भी कुछ दिन तो आगे बढ़ सकता है लेकिन बाद में वो कहीं नहीं दिखता, न’क़ल सफलता का टि’काऊ रास्ता नहीं है। लता मंगेशकर ने कहा कि मेरे, किशोर दा , रफ़ी साहब और आशा भोंसले के गाने गाकर लोग कुछ दिन तो टि’क जाते हैं लेकिन चल नहीं पाते। किसी का गाया गीत गाकर आप कुछ दिन प्रसिद्धि पा सकते हो लेकिन हर कलाकार को अपना गाना ख़ुद ढूँढना पड़ता है।

लता मंगेशकर ने कहा इन दिनों शोज़ में कई बच्चे उनके गाए गीत अच्छी तरह गाते हैं लेकिन कितने ऐसे हैं जो बाद में नज़र आते हैं। उन्होंने कहा कि दूसरों के एवरग्रीन गाने गाओ लेकिन अपने गाने भी ढूँढो, आगे उन्होंने कहा कि रिएलिटी शो से आए सिर्फ़ सुनिधि और श्रेया ही नज़र आती हैं क्योंकि उनके पास उनका अपना स्टाइल था। वहीं बात आगे बढ़ाते हुए वो कहती हैं कि आशा भोंसले ने भी अगर अपना स्टाइल नहीं ढूँढा होता तो वो भी कहीं नहीं होती मेरी प’रछाईं बनकर रह जाती।

Asha Bhonsle-Lata Mangeshkar

लता मंगेशकर की ये बात लोगों को बु’री लगी है और उनके इस इंटरव्यू के आने के बाद से लोगों ने लता मंगेशकर के इस बयान की आलो’चना करनी शुरू कर दी है। एक ने लिखा है कि एक ग़रीब औरत रेलवे स्टेशन से निकलकर बॉलीवुड पहुँचकर स्टार बन गयीं। इस ट्वीट के जवाब में एक यूज़र ने लिखा कि और एक स्टार अपनी विनम्रता भूलकर आज नीचे गि’र गया और ये कहकर उन्होंने लता मंगेशकर की ओर संकेत किया। वही दूसरी यूज़र ने लता मंगेशकर की सलाह को क’ठोर कहा।

About Arghwan Rabbhi

Arghwan Rabbhi is a researcher and journalist.

View all posts by Arghwan Rabbhi →

Leave a Reply

Your email address will not be published.