नई दिल्ली: ब्रिटेन के मौजूदा प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने प्रधानमंत्री पद संभालने से पहले एक लेख लिखा था जिसमें उन्होंने बुर्क़े वाली महि’लाओं के बारे में आप’त्तिजनक टिप्पणी की थी. उस समय जॉनसन के ऊपर इ’स्लामोफोबि’या फैलाने के आरोप लगे थे. इस साल उन्होंने प्रधानमंत्री पद संभाला है. जॉनसन के पास इस वक़्त सबसे बड़ी परेशानी तो यही है कि वो ब्रेक्सिट को किस तरह हैंडल करें. परन्तु फ़िलहाल वो इस मामले में पिछड़ते नज़र आ रहे हैं.

प्रधानमंत्री जॉनसन को ब्रिटेन की संसद में उस समय अजीब स्थिति का सामना करना पड़ा जब लेबर पार्टी के सांसद तनमंजीत सिंह ने प्रधानमंत्री को उनके पुराने बयान के लिए माफ़ी माँगने को कहा. सिंह ने शानदार स्पीच देते हुए कहा कि जॉनसन ने एक लेख लिख कर बुर्क़ा पहनने वाली म’हिलाओं की वेशभूषा को लैटर-बॉक्स और बैंक रॉबर के तरह की माना था.

उन्होंने कहा कि मुस्लि’म म’हिलाओं पर की गई ऐसी टिप्पणी गलत है. उन्होंने आगे कहा कि अगर कोई मुझे टॉवल हेड, तालिबानी या फिर बोन्गो-बोन्गो लैंड से आया हूं व्यक्ति कहता है तो हम भी उसी दर्द से गुज़रते हैं, जिनसे वो मु’स्लिम महि’लाएं गुज़रती हैं जिनपर आपने टिप्पणी की. ब्रिटेन के प्रधानमंत्री और कंजरवेटिव पार्टी के नेता बोरिस जॉनसन और यूके की लेबर पार्टी के सिख सांसद तनमनजीत सिंह की तीखी बहस सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

सिंह ब्रिटेन के पहले पगड़ीधारी सिख सांसद हैं. लेबर पार्टी के सांसद सिंह की उनके इस बयान के लिए उन्हें काफ़ी समर्थन मिल रहा है. उन्होंने अपने बयान का वीडियो भी शेयर किया है. इस वीडियो को 10 लाख से अधिक बार देखा जा चुका है और लगातार वायरल हो रहा है. तनमंजीत सिंह की टिपण्णी ब्रिटेन ही नहीं बल्कि दुनिया के दूसरे हिस्सों में भी वायरल हो रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *