क्षेत्रीय पार्टी को हराने के लिए कांग्रेस-भाजपा ने मिला लिया हाथ, अब हुआ ये रिएक्शन..

December 11, 2020 by No Comments

डूंगरपुर. राजस्थान पंचायत चुनाव में बीटीपी को डूंगरपुर में झटका लग गया. यहाँ कांग्रेस और भाजपा दोनों मिल गए और भारतीय ट्राइबल पार्टी के उम्मीदवार को महज़ एक वोट से हरा दिया. जिला प्रमुख पद पर निर्दलीय नामांकन भरकर चुनाव लड़ने वाली भाजपा की सूर्या अहारी ने कांग्रेस के समर्थन से बीटीपी समर्थित पार्वती को एक वोट से हराकर जिला प्रमुख पद पर जीत हासिल की. दरअसल जिला परिषद की 27 सीटो में से बीटीपी समर्थित 13 निर्दलीय जीतकर आये थे. वहीं कांग्रेस के 6 और भाजपा के 8 उम्मीदवार जीते थे.

इधर जिला परिषद सीटो में सर्वाधिक सीट बीटीपी समर्थित होने के चलते जिला प्रमुख चुनाव में बीटीपी को हराने के लिए पहली बार भाजपा व कांग्रेस ने हाथ मिलाया. यही कारण रहा की जिला प्रमुख चुनाव में कांग्रेस ने अपना उम्मीदवार नहीं उतारा. वहीं भाजपा ने अपनी उम्मीदवार सूर्या अहारी को निर्दलीय के रूप में नामांकन भराया वही बीटीपी समर्थित पार्वती ने अपना नामांकन दाखिल किया.


इसके बाद मतदान हुआ और मतगणना हुई. जिसमें भाजपा से निर्दलीय प्रमुख का चुनाव लड़ने वाली सूर्या अहारी को भाजपा के 8 व कांग्रेस के 6 मत सहित कुल 14 मत मिले जबकि बीटीपी समर्थित उम्मीदवार पार्वती को 13 मत मिले और एक वोट से सूर्या अहारी ने जीत दर्ज करते हुए जिला प्रमुख बनी.

राजस्थान पंचायत चुनाव में मिली हार के बाद अब राज्य की गहलोत सरकार के सामने संकट गहराता हुआ नजर आ रहा है. जानकारी के मुताबिक भारतीय ट्राइबल पार्टी (BTP) ने राज्य की कांग्रेस सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया है. पार्टी का आरोप है कि कांग्रेस ने उसके साथ छल किया है. बीटीपी के दो विधायक कांग्रेस को अपना समर्थन दे रहे थे.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *