रियाद: सऊदी अरब की कोशिशों के बाद ऐसी ख़बर है कि यमन की सरकार और दक्षिणी अलगाववादी गुट के बीच समझौता हो गया है. इस तरह की ख़बर है कि अन्तराष्ट्रीय-मान्यता प्राप्त यमन की सरकार और एसटीशी के बीच समझौता हो गया है. सऊदी अरब के TV चैनल अल अख़बारिया ने कहा कि 24 मंत्रियों की एक सरकार की स्थापना यमन में की जाएगी जिनमें से मंत्रालय दोनों के बीच बराबर-बराबर बाँटे जाएँगे.

अगर ये डील होती है तो ये सऊदी अरब के लिए बड़ी कामयाबी है. आपको बता दें कि कुछ महीने पहले ही ये दोनों आपस में भिड़ गए थे जिसके बाद सऊदी अरब और UAE के बीच भी मतभेद उभरने लगे थे. सऊदी अरब और UAE लम्बे समय से यमन में वहाँ की मान्यता प्राप्त सरकार के समर्थन में हौथी विद्रोहियों से लड़ रहे हैं. हौथी विद्रोहियों को ईरान का समर्थन हासिल है.

सऊदी अरब के गुट के बीच उभरे आपसी मतभेद के बाद ऐसा माने जाने लगा था कि सऊदी अरब क्षेत्रीय श’क्ति का तमगा खो सकता है लेकिन सऊदी अरब और UAE ने ज़बरदस्त कूटनीति का परिचय देते हुए फ़िलहाल मामला संभाल लिया है.एसोसिएटेड फ़्री प्रेस ने बताया है कि एक एसटीसी ऑफ़ीशियल ने कहा है कि हमने एक ड्राफ्ट अग्रीमेंट पर दस्तख़त किए हैं और उम्मीद करते हैं कि आने वाले दिनों में इस पर जॉइंट दस्तख़त होंगे.

इस तरह की भी ख़बरें हैं कि सऊदी अरब अब हौथी विद्रोहियों से भी बात कर सकता है. UAE का मानना है कि यमन में जं’ग लम्बी चलाने से किसी का भला नहीं है, इसलिए बातचीत के ज़रिए अगर बात बन सकती है तो इस पर काम करना चाहिए.

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *