किसानों के मुद्दे पर मुश्कि’ल में NDA, अब इस पार्टी के रुख़ से भाजपा परेशान..

December 1, 2020 by No Comments

चंडीगढ़: किसान आंदो’लन (Farmers Protests) ने भाजपा को बैकफुट पर ला दिया है वहीं केंद्र सरकार इस मामले का निप’टारा तो चाहती है लेकिन कोई क़ा’नून वापिस नहीं लेना चाहती. सरकार के सलाहकार मानते हैं कि अगर बिल वापिस लिया जाता है तो इससे संकेत जाएगा कि ‘मोदी सरकार’ कमज़ो’र है. भाजपा में भी किसान आन्दोलन को लेकर चिं’ता देखी जा सकती है. भाजपा के कुछ नेता दबी ज़बान में कह रहे हैं कि पिछले कुछ दिनों में जिस तरह से सरकार ने एक के बाद एक क़ा’नून पास कराए हैं और जिस तरह से उनका वि’रोध हुआ है, ये चिं’ता का विषय है.

भाजपा के सहयोगी भाजपा से काफ़ी नारा’ज़ दिख रहे हैं. कुछ सहयोगी ऐसे हैं जो साथ नहीं छोड़ सकते लेकिन कई ऐसे हैं जो अब साथ छो’ड़ने पर भी विचार कर रहे हैं. सबसे ज़्यादा मुश्किल भाजपा को हरियाणा में होती दिख रही है. यहाँ राज्य सरकार पर भी सं’कट आ सकता है, हालाँकि अभी तक सरकार को कोई ख़’तरा नहीं दिख रहा है.

हरियाणा के उप-मुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की पार्टी जननायक जनता पार्टी (JJP) के अध्यक्ष और उनके पिता अजय चौटाला (Ajau Chautala) ने साफ़ कहा है कि मोदी सरकार को इस मु’द्दे पर बड़ा दिल रखकर सोचना चाहिए. उन्होंने कहा कि जब मोदी सरकार के मंत्री अलग-अलग जगह कह रहे हैं कि एमएसपी रहेगा तो इसको बिल में एड करने में क्या परेशानी है. इसके अलावा राज्य की गठबंधन की सरकार के सहयोगी निर्दलीय विधायक सोमवीर सांगवान ने भी सत्ता से अपना गठबंधन तोड़ लिया है.

ख़बर है कि दुष्यंत चौटाला की पार्टी के लिए ये बड़ी अजीब स्थिति है. उसको पता है कि अगर वो किसानों के हक़ में फ़ैसला नहीं लेगी तो उसकी राजनीति मुश्किल में फँसेगी लेकिन वो सत्ता भी नहीं छोड़ना चाहती. अजय चौटाला ने कहा,”सरकार को किसानों की समस्या जल्द से जल्द हल करनी चाहिए. किसानों को एमएसपी लागू करने के लिए पुख्ता आश्वासन देना चाहिए.”

उन्होंने कहा कि अन्नदाता सड़कों पर परेशान हो रहे हैं. ऐसे में सरकार को बड़ी सोच रखकर किसानों की मांग पूरी करनी चाहिए. उन्होंने सुझाव दिया कि सरकार अपने कृषि कानूनों में एमएसपी को शामिल कर किसानों की मांग पूरी करे. बता दें कि इसके पहले केंद्र में बीजेपी पहले ही अपने सहयोगी दल शिरोमणि अकाली दल के साथ को खो चुकी है. राजस्थान के सांसद हनुमान बेनीवाल ने भी भाजपा से रिश्ता तोड़ने की धमकी दे दी है.’

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *