कमलनाथ कैसे दे सकते हैं शिवराज सिंह को मात?, आंकड़ों से जानें MP उपचुनाव का पूरा खेल..

August 28, 2020 by No Comments

मध्य प्रदेश में विधानसभा की 27 सीटों पर जल्द ही उपचुनाव हो सकते हैं। ऐसे में सभी पार्टियां चुनाव जीतने की को’शिशों में लगी हुईं हैं। वहीं यह चुनाव कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के लिए काफी महत्वपू’र्ण माना जा रहा है और दोनों ही पार्टियां इसे जीतने की हर सं’भव कोशिश कर रहीं हैं। मध्य प्रदेश में अपनी सरकार बचाने के लिए भाजपा को इन 27 सीटों में से कम से कम 9 सीटों की ज़रूरत होगी, दूसरी ओर कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए पूरी 27 सीटों पर जीत हासिल करनी होगी, जोकि ना मुम’किन सा मालूम देता है।

मालूम हो कि मध्य प्रदेश की विधानसभा में कुल 230 सीटें हैं और मौजूदा समय में 27 सीटें खा’ली हैं। फिलहाल राज्य की शिवराज सिंह चौहान की सरकार के पास 107 विधायक हैं और कांग्रेस के पास कुल 89 विधायक मौजूद हैं। वहीं उपचुनाव हो जाने के बाद बहुमत का आंक’ड़ा 116 जो जाएगा, जिसके लिए बीजेपी को कम से कम नौ सीटों पर जीत हासिल करनी होगी और कांग्रेस को 27 सीटें जीतनी होंगी। यदि ऐसा होता है कि भाजपा नौ सीटें जीतने में असफल होती है तो उसे समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी या अन्य उम्मीदवारों की सहायता लेनी पड़ेगी।

वहीं बीजेपी के नौ से कम सीटें जीत पाती है और कांग्रेस को 20 से ज़्यादा सीटों पर जीत प्राप्त होती है तो ऐसे में कांग्रेस को सरकार बनाने के लिए चार निर्दलीयों, दो BSP और एक SP विधायक के समर्थ’न की जरूरत पड़ेगी। गुरुवार को इस संबं’ध में राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा था कि “ये उपचुनाव, आम चुनाव नहीं हैं। मैं इसे उपचुनाव भी नहीं मानता। ये चुनाव मध्यप्रदेश के भवि’ष्य के लिये हैं।” उन्होंने कहा कि “पिछले चार माह से मैंने पार्टी को मजबूत करने का काम किया है। क्योंकि हमारी ल’ड़ाई भाजपा की उपलब्धियों के साथ नहीं, बल्कि उनके संग’ठन के साथ है।”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *